बिहार: गोपालगंज के चीनी मिल में बॉयलर फटा, चार मजदूरों की मौत, दस से अधिक घायल 

बिहार: गोपालगंज के चीनी मिल में बॉयलर फटा, चार मजदूरों की मौत, दस से अधिक घायल जहां ब्लास्ट हुआ। गोपालगंज

बिहार। बिहार के गोपालगंज के सासामुसा चीनी मिल में बॉयलर फटने से बड़ा हादसा हो गया है। हादसे में अब तक चार मजदूरों की झुलसने से मौत हो चुकी है। जबिक दस से ज्यादा लोग अभी भी गंभीर अवस्था में हैं। हादसा रात बारह बजे के बाद सामने आया है।

ये भी पढ़ें- NTPC हादसा : क्योंकि हमारे यहां मजदूर की कोई औकात नहीं होती

शव इस कदर झुलस गए हैं कि उनकी पहचान करना मुश्किल है। हादसे के बाद स्थानीय लोग आक्रोशित हैं और पुलिस के पहुंचने के बाद भी लोग मिल मालिक को गिरफ्तार नहीं करने दे रहे हैं। हालांकि पुलिस मिल मालिक और उसके दो बेटों को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही है। न्यूज एजेंसी एएनआई ने चार माैतों की पुष्टि की है।

गंभीर रूप से घायल तीन मजदूरों को पटना के पीएमसीएच रेफर कर दिया गया है, इन लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है।

स्थानीय लोगों के मुताबिक चीनी मिल का बॉयलर बहुत पुराना है और बुधवार की रात में करीब साढ़े बारह बजे चीनी मिल का बॉयलर टैंक अचानक ज्यादा गर्म होने की वजह से फट गया, जिसकी वजह से यह बड़ा हादसा हुआ है। लोगों ने कहा कि चीनी मिल के मालिक ने चीनी मिल में किसी तरह की सुरक्षा व्यवस्था नहीं की है।

ये भी पढ़ें- क्योंकि वे गरीब किसान और मजदूर हैं, इसलिए इनकी मौतों पर चर्चा नहीं होती

लोगों के मुताबिक मिलकर्मी कई बार पुरानी मशीनों को बदलने की मांग करते रहे, लेकिन मिल प्रबंधन के द्वारा इस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया, जिसकी वजह से यह बड़ा हादसा हुआ है। लोगों ने बताया कि सात दिन पहले भी मिल में हादसा हुआ था, जिसमे कई लोग जख्मी हो गए थे। लेकिन फिर भी बड़ी घटना का अंदेशा देखते हुए भी इसी बॉयलर से काम लिया जा रहा था।

मिली जानकारी के मुताबिक रात में जब गन्ने की पेराई का काम चल रहा था, तभी बॉयलर टैंक में जाने वाली बॉयलर का पाइप फट गया, जिससे जबरदस्त धमाका हुआ और इसमें बायलर टैंक के समीप काम कर रहे मजदूरों के चिथड़े उड़ गए।

नीतीश ने हादसे की जांच के आदेश दिए

बिहार के गोपालगंज में एक चीनी मिल में बॉयलर फटने से पांच लोगों की मौत के बाद गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस हादसे की जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रुपये का मुआवजा देने की भी घोषणा की है।

मुख्यमंत्री ने गन्ना उद्योग विभाग के प्रधान सचिव एस.सिद्घार्थ और श्रम संसाधन विभाग के प्रधान सचिव दीपक कुमार सिंह को जांच का निर्देश दिया है। नीतीश कुमार ने इस हादसे में मरने वालों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की है। उन्होंने इस हादसे को अत्यंत दुखद बताते हुए मृतक परिवारों के प्रति गहरी संवेदना जताई।

नीतीश कुमार।

मुख्यमंत्री ने हादसे के मृतकों के परिजनों को चार-चार रुपये का अनुग्रह अनुदान देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री सचिवालय द्वारा जारी बयान के अनुसार, "हादसे में घायलों के समुचित इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए हैं और उनके शीघ्र स्वस्थ होने की मुख्यमंत्री ने कामना की है।"

उल्लेखनीय है कि बुधवार की रात गोपालगंज के सासामूसा चीनी मिल में बॉयलर फटने से पांच लोगों की मौत हो गई और सात लोग बुरी तरह झुलस गए। इस घटना से आक्रोशित लोगों ने मिल में तोड़फोड़ की और मिल के मालिक के वाहनों में आग लगा दी। घटना के बाद घटनास्थल पर बड़ी संख्या में पुलिसबलों की तैनाती कर दी गई है।

Share it
Top