युवती को अगवा कर किया गैंग रेप, 23 लोगों के खिलाफ दर्ज हुई एफआईआर

युवती को अगवा कर किया गैंग रेप, 23 लोगों के खिलाफ दर्ज हुई एफआईआरप्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ। राजस्थान के बीकानेर में दिल्ली की एक महिला को अगवा कर 23 लोगों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने इस मामले में अभी तक 5 लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

दिल्ली की रहने वाली 28 वर्षीय महिला ने बताया कि वह 25 सितंबर को बीकानेर के रिदमालसर पुरोहित स्थित अपने प्लाट को देखने आई थी। वह दोपहर करीब 2.30 बजे जयपुर रोड पर खाटू श्याम मंदिर के पास लौटने के लिए वाहन का इंतजार कर रही थी। उसी वक्त एक एसयूवी में आए दो लोगों ने उसे अगवा कर लिया।

यह भी पढ़ें- नोएडा: चलती गाड़ी में युवती से गैंग रेप के बाद अक्षरधाम के पास फेंका

जय नारायण व्यास कॉलोनी पुलिस स्टेशन में दर्ज शिकायत के अनुसार, आरोपी उसे वाहन में कई घंटों तक घूमाते रहे और बारी-बारी से दुष्कर्म किया। उसने कहा कि दो आरोपियों ने कार में उसके साथ दुष्कर्म किया और इसके बाद उन्होंने छह अन्य लोगों को बुला लिया। इन्होंने भी उसके साथ बलात्कार किया। पीड़िता ने कहा कि उसे पलाना गांव स्थित सरकारी बिजली उपस्टेशन ले जाया गया जहां कई लोगों ने उसके साथ बलात्कार किया।

एफआईआर के अनुसार, दो लोग 26 सितंबर की सुबह करीब 4 बजे उसे वहीं फेंक गए जहां से उसे अगवा किया गया था। पुलिस ने 27 सितंबर को दो नामजद और 21 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। मामले की जांच कर रहे सीओ राजेंद्र सिंह ने कहा कि पुलिस ने घटनास्थल से कंडोम बरामद किए हैं। साथ ही सीआरपीसी की धारा 164 के तहत मजिस्ट्रेट के सामने महिला के बयान दर्ज किए गए हैं। महिला की डॉक्टरी जांच कराई गई है और अभी इसकी रिपोर्ट नहीं आई है। महिला ने दो मोबाइल नंबर और एक वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर भी एफआईआर में दर्ज कराया है।

यह भी पढ़ें- झारखंड के दुमका में आठ युवकों ने एक लड़की के साथ कथित तौर पर किया गैंग रेप

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के अनुसार, राजस्थान देश का तीसरा राज्य है जहां सबसे अधिक बलात्कार के मामले सामने आते हैं। वर्ष 2015 में 3644 दुष्कर्म के मामले दर्ज किए गए थे। पहले और दूसरे नंबर पर मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top