जानिए देश के किन-किन राज्यों में है बीजेपी और उनके सहयोगियों की सरकार ?

जानिए देश के किन-किन राज्यों में है बीजेपी और उनके सहयोगियों की सरकार ?फोटो साभार: पीटीआई

3 मार्च का दिन बीजेपी और उसके संगठनों के लिए काफी अहम साबित हुआ है, अब तक देश के 19 राज्यों में जीत का डंका बजा चुके भाजपा के कुनबे में नया राज्य जुड़ गया है.. जानिए वो 20 राज्य जहां है एनडीए का शासन

त्रिपुरा में जीत के बाद अब देश के 20 राज्यों में बीजेपी या उसकी अगुआई वाले फ्रंट एनडीए की सरकार है। इससे पहले 1993 में लगभग यही स्थिति कांग्रेस के साथ थी जब 18 राज्यों में कांग्रेस और सहयोगी दलों की सरकार थी। इन 24 बरसों में भारतीय राजनीति काफी बदली है।

गुजरात और हिमाचल प्रदेश के नतीजों को लेकर पत्रकारों से बात करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, आज देश के 14 राज्यों में बीजेपी के मुख्यमंत्री हैं, जबकि 5 राज्यों में हमारे सहयोगी दल सत्ता में हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में असम और कर्नाटक समेत जिन 4 राज्यों में चुनाव होने हैं, वहां भी बीजेपी या उसके सहयोगी जीतेंगे। आइए जानते हैं कि देश के किन राज्यों में बीजेपी या एनडीए की सरकार है।

हिमाचल प्रदेश

हिमाचल प्रदेश का चुनाव हमेशा से दिलचस्प रहा है। यहां मतदाता 1985 से कभी कांग्रेस तो कभी बीजेपी को चुनता आया है। 2012 में कांग्रेस ने 36 सीटें जीतीं थी, तब बीजेपी को यहां 26 सीटें मिली थीं। वहीं छह सीटें निर्दलीय नेताओं के हाथ लगीं। साल 2012 के चुनाव में हार का सामने करने के बाद बीजेपी राज्य में वापसी करने की पुरजोर कोशिश कर रही थी और इस बार उसकी ये कोशिश लगभग कामयाब हो गई है।

गुजरात

गुजरात में पिछले 22 वर्षों यानि 1995 से बीजेपी की सरकार है और यहां एक बार फिर बीजेपी ने जीत हासिल कर ली है। 1998 में नरेंद्र मोदी ने यहां के मुख्यमंत्री पद की कुर्सी संभाली थी। नरेंद्र मोदी ने 12 सालों तक गुजरात के मुख्यमंत्री पद को संभाला। 2014 में लोकसभा चुनाव जीतने के बाद पीएम मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद की कुर्सी छोड़ दी और इसके बाद आनंदीबेन को यहां का मुख्यमंत्री बनाया गया। फिलहाल यहां भाजपा के विजय रुपाणी मुख्यमंत्री हैं।

ये भी पढ़ें- नॉर्थ ईस्ट में बीजेपी की होली, त्रिपुरा में बहुमत की ओर

गुजरात में नया रिकॉर्ड

ये भी पढ़ें- सीपीएम की राह पर गुजरात बीजेपी, बनने जा रहा है नया रिकॉर्ड

बिहार

बिहार में 20 महीने पहले हुए विधानसभा चुनाव में महागठअबंधन (आरजेडी, जेडीयू और कांग्रेस) की सरकार बनी थी जिसके मुखिया नीतीश कुमार थे और बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में वे सत्ता की कुर्सी संभाल रहे थे लेकिन 20 महीने बाद ये गठबंधन टूट गया और नीतीश कुमार ने बीजेपी समर्थन से बिहार में सरकार बना ली और एक बार भी सत्ता की कुर्सी पर काबिज़ हो गए। यानि अब यहां भी बीजेपी की सरकार हो गई।

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश में इस फरवरी- मार्च में हुए चुनाव में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत हासिल करते हुए 403 सीटों में से 325 सीटें अपने नाम कर लीं और यहां मुख्यमंत्री की कुर्सी योगी आदित्यनाथ को सौंप दी।

गोवा

गोवा में भी 2017 में विधानसभा चुनाव हुए जहां कांग्रेस ने बीजेपी से ज्यादा सीटें जीतीं लेकिन पूर्ण बहुमत हासिल नहीं कर पाई। ऐसे में बीजेपी ने निर्दलीय विधायकों का समर्थन लेकर गोवा में सरकार बनाई और मनोहर पर्रिकर को यहां का मुख्यमंत्री बनाया। पर्रिकर को इसके लिए केंद्रीय रक्षा मंत्री के पद से भी त्यागपत्र देना पड़ा था।

यह भी पढ़ें : पीएम नरेंद्र मोदी विक्ट्री साइन दिखाते हुए संसद भवन पहुंचे

उत्तराखंड

उत्तरांखड में 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने कुल 70 सीटों में से 57 सीटें अपने नाम कर लीं और कांग्रेस को सिर्फ 11 सीटें ही मिलीं। यहां भी बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई और त्रिवेंद्र सिंह रावत को यहां का मुख्यमंत्री बनाया गया।

मणिपुर

यहां भी 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी से ज्यादा सीटें हासिल की थीं। 60 सीटों में से 28 सीटें कांग्रेस को, 21 भाजपा को, नागा पीपुल्स फ्रंट ने 4, नेशनल पीपुल्स पार्टी ने 4, लोक जन शक्ति पार्टी ने 1, ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस ने 1 और निर्दलीय उम्मीदवारों ने एक सीट पर जीत दर्ज की थी। यहां कांग्रेस बड़ी पार्टी थी लेकिन यहां भी भाजपा ने दूसरी पार्टियों से गठबंधन करके सरकार बनाई और एन बीरेन सिंह को यहां का मुख्यमंत्री बनाया गया।

जम्मू कश्मीर

जम्मू कश्मीर में 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में भी बीजेपी को पूर्ण बहुमत हासिल नहीं हुआ था। पीडीपी (पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी) ने 28, बीजेपी ने 25 सीटें जीतीं और यहां तत्कालीन सत्तारूढ़ पार्टी नेशनल कांफ्रेंस को सिर्फ 15 सीटें मिलीं। यहां भी बीजेपी ने पीडीपी के साथ मिलकर सरकार बनाई और महबूबा मुफ्ती को सीएम बनाया।

हरियाणा

हरियाणा में भी 2014 में विधानसभा चुनाव हुए थे जहां बीजेपी ने पूर्ण बहुमत हासिल किया और मनोहर लाल खट्टर को यहां का मुख्यमंत्री बनाया गया।

राजस्थान

राजस्थान में 2013 में विधानसभा चुनाव हुए थे। यहां बीजेपी ने कांग्रेस के अशोक सिंह गहलौत को हराकर 163 सीटों पर जीत हासिल की थी। यहां सत्ता की कमान बीजेपी की फायरब्रांड नेता वसुंधरा राजे के हाथों में है।

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश में भी पिछले 12 सालों से बीजेपी की सरकार है। 2003 में यहां कांग्रेस के दिग्विजय सिंह को हराकर शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री की कुर्सी हासिल की थी और तब से लगातार वह इस पर विराजमान हैं।

यह भी पढ़ें : गुजरात चुनाव : दो सीटों के साथ भिलिस्तान ने दी दस्तक

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में भी 2003 से बीजेपी सत्ता में है। डॉ. रमन सिंह यहां के मुख्यमंत्री हैं जो पेशे से आयुर्वेदिक डॉक्टर थे।

झारखंड

झारखंड में 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने जीत हासिल की और रघुवर दास को यहां का मुख्यमंत्री बनाया गया। वह झारखंड के पहले गैर आदिवासी मुख्यमंत्री हैं। बीजेपी ने यहां 37 सीटें जीती थीं।

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना के गठबंधन की सरकार है। यहां सरकार का नेतृत्व देवेंद्र फडणवीस कर रहे हैं। हालांकि यहां का बीएमसी चुनाव इस बार दोनों पार्टियों ने अलग लड़ा था।

अरुणाचल प्रदेश

अरुणाचल प्रदेश में 2016 में काफी राजनीतिक उठापटक हुई। यहां कांग्रेस के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने 43 विधायकों के साथ पार्टी छोड़ दी और बीजेपी में शामिल हो गए। अब पेमा खांडू बीजेपी से अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं।

असम

असम में 2016 में विधानसभा चुनाव हुए थे। यहां भाजपा ने 86 सीटें हासिल करके कांग्रेस के एक दशक के शासन का अंत कर दिया। यहां बीजेपी के सर्बानंद सोनोवाल मुख्यमंत्री हैं।

सिक्किम

1994 से पवन कुमार चामलिंग सिक्किम के मुख्यमंत्री हैं। 2014 में हुए चुनावों में उनकी पार्टी सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को फिर से बहुमत मिला। सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट एनडीए की सदस्य है।

नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी लगातार बना रही है कई रिकार्ड।

यह भी पढ़ें : BJP समर्थकों में जश्न का माहौल

नागालैंड

नागालैंड पीपल्स फ्रंट के टीआर जेलियांग नागालैंड के 19वीं मुख्यमंत्री हैं। जुलाई 2017 से वह इस पद पर हैं। उनकी पार्टी एनडीए की सहयोगी है।

आंध्र प्रदेश

आंध्र प्रदेश में एन चंद्रबाबू नायडु मुख्यमंत्री हैं। उनकी पार्टी टीडीपी एनडीए की सहयोगी है।

यह भी पढ़ें : मंजिल तक भले ना पहुँचे हों पर सफर अच्छा रहा : थरूर

Share it
Share it
Share it
Top