भारत ने लद्दाख में चीनी सीमा के पास बनाई दुनिया की सबसे ऊंची सड़क

भारत ने लद्दाख में चीनी सीमा के पास बनाई दुनिया की सबसे ऊंची सड़कफाइल फोटो।

लखनऊ। पिछले कुछ समय से पाकिस्तान और चीन के साथ चल रहे विवाद को लेकर भारत सीमा पर अपनी चौकसी बढ़ा रहा है। इसी को लेकर बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन (बीआरओ) ने लद्दाख में वाहनों के आवागमन के लिए दुनिया में सबसे ऊंची सड़क बना दी है। यह सड़क जम्मू-कश्मीर के लद्दाख के उमलिंगा टॉप से होकर गुजरेगी। इसकी ऊंचाई 19,300 फुट है। बीआरओ के प्रॉजेक्ट हिमांक के तहत इस सड़क का निर्माण किया गया है।

ये भी पढ़ें- लद्दाख में स्थापित हो सकती है दुनिया की सबसे बड़ी दूरबीन

बीआरओ के प्रवक्ता ने जानकारी दी कि यह सड़क लेह से 230 किमी दूर हानले के पास स्थित है। चिसुमले और डेमचोक जैसे सीमावर्ती गांवों को जोड़ने वाली 86 किमी लंबी सड़क रणनीतिक तौर पर बेहद महत्वपूर्ण हैं।

वहीं इस प्रोजेक्ट को पूरा करने पर चीफ इंजीनियर ब्रिगेडियर डीएम पुरवीमठ ने बीआरओ कर्मियों की तारीफ की है। उन्होंने कहा कि इतनी अधिक ऊंचाई पर सड़क बनाना चुनौतियों से भरा हुआ था। यहां की जलवायु निर्माण गतिविधियों के लिए हमेशा ही प्रतिकूल रहती है। गर्मियों में तापमान शून्य से -20 डिग्री सेल्सियस तक कम रहता है, जबकि सर्दियों में यह शून्य से 40 डिग्री नीचे चला जाता है। इस ऊंचाई पर ऑक्सीजन की मात्रा भी सामान्य स्थानों से 50 फीसदी कम रहती है।

ये भी पढ़ें- बंदूक से खेलता एक नन्हा संन्यासी, कैमरे की नजर से नहीं बच पाया

उन्होंने बताया कि मशीनों और मानव शक्ति की क्षमता विषम जलवायु और कम ऑक्सीजन के चलते सामान्य स्थानों पर 50 फीसदी कम हो जाती है। इसके अलावा मशीन ऑपरेटरों को ऑक्सीजन के लिए हर 10 मिनट पर नीचे आना होता है। ब्रिगेडियर ने कहा कि इतनी ऊंचाई पर उपकरणों का रखरखाव एक और बड़ी चुनौती थी।

Share it
Share it
Share it
Top