सूखाग्रस्त कर्नाटक को केंद्र से 795 करोड़ रुपये की मदद  

सूखाग्रस्त कर्नाटक को केंद्र से 795 करोड़ रुपये की मदद  कर्नाटक को 795.54 करोड़ रुपये की सहायता की मंजूरी

नई दिल्ली (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने सूखे की त्रासदी से जूझ रहे कर्नाटक को गुरुवार को 795.54 करोड़ रुपये की सहायता की मंजूरी दी। राष्ट्रीय राजधानी में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में यह फैसला लिया गया।

गृह मंत्रालय के एक बयान के मुताबिक, "कमेटी ने राष्ट्रीय आपदा राहत कोष (एनडीआरएफ) से कर्नाटक को 795.54 करोड़ रुपये की सहायता को मंजूरी दी।"

इसे भी पढ़ें- कर्नाटक में सूखा राहत राशि के नाम पर किसानों के साथ मजाक, मुआवजे में मिला सिर्फ 1 रुपए!

राज्य का दौरा करने वाले अंतर-मंत्रालयी केंद्रीय दल की रिपोर्ट पर आधारित प्रस्ताव पर कमेटी ने गौर किया।बैठक में केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली तथा केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधा मोहन सिंह ने भी शिरकत की।

ये भी पढ़ें- मानसून की जोरदार बारिश ने दी गर्मी से राहत, तैयारी में जुट जाएं किसान

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि राज्य में 25,000 करोड़ रुपये की फसल का नुकसान हुआ है। उन्होंने सूखे से निपटने के लिए केंद्र से 4,702.54 करोड़ रुपये के पैकेज की मांग की।

एक अधिकारी ने कहा कि बीते कुछ वर्षो के दौरान फसल खराब होने तथा भारी कर्ज के दबाव में अनुमानित तौर पर लगभग 1,000 किसान खुदकुशी कर चुके हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top