चीन खरीदेगा पाकिस्तान से गधे

चीन खरीदेगा पाकिस्तान से गधेपाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रान्त की सरकार भी इसको लेकर तैयारी कर रही है।

लखनऊ। अक्सर देखा जाता है कि चीन पाकिस्तान की मदद करता है, लेकिन एक मामले में पाकिस्तान चीन की मदद कर रहा है। आप जनाकर हैरान हो जाएँगे कि पाकिस्तान चीन के लिए गधों की फौज तैयार कर रहा है।

चीन में निर्माण होने वाले ज्यादातर दवाओं में गधों की चमड़ी से बना जिलेटिन इस्तेमाल होता है। इसके लिए चीन को ज्यादा संख्या में गधों की ज़रूरत है। इसकी ज़िम्मेदारी पाकिस्तान को दी गई है। इसके लिए चीन पाकिस्तान को 50 बिलियन डॉलर रुपए भी देने वाला है।

ये भी पढ़ें- नेताओं के बयानों से परे ये पढ़िये: देश में घटती जा रही गधों की संख्या

खबरों के अनुसार पाकिस्तान में गधों का पालन शुरू हो गया ह। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रान्त की सरकार भी इसको लेकर तैयारी कर रही है। एक अरब डॉलर की खैबर-पख्तूनख्वा चीन स्थायी गधा विकास परियोजना से पाकिस्तान को काफी राजस्व की उम्मीद है।

तीन लाख गधे हर साल कम होते है चीन में

एक आंकड़े के अनुसार चीन में गधों की संख्या में लगातार गिरावट आई है। 1990 के दशक में यहां एक करोड़ 10 लाख गधे थे वहीं अब चीन में गदहों की संख्या 60 लाख ही है। चीन में हर साल गदहों की संख्या में तीन लाख की कमी आती है।

भारत में भी गधों की स्थिति चिंताजनक

18वीं पशुगणना के मुताबिक भारत में गधों की संख्या 4.3 करोड़ थी, वहीं 19वीं पशुगणना में इनकी संख्या घटकर 3.1 करोड़ है। इनमे प्रतिवर्ष अंतर 27.17 प्रतिशत है।

गधों और खच्चरों के लिए काम करने वाली संस्था द डंकी सैंक्च्युरी के प्रंबधक विनोद खुराना बताते हैं, “पिछले दस वर्षों से गधों से जो काम होते थे वो अब कम हो गए है। उनकी जगह पर वाहनों का प्रयोग होने लगा है। साथ ही लोगों के पास रहने की इतनी ज्यादा कमी है इसलिए वो गधे मालिकों को उनका मेहताना नहीं मिल पाता है इसलिए वह गधों में रुचि नहीं लेते हैं

Share it
Share it
Share it
Top