कांग्रेस ने अमिताभ से जीएसटी के प्रचार अभियान से हटने की अपील की

कांग्रेस ने अमिताभ से जीएसटी के प्रचार अभियान से हटने की अपील कीकांग्रेस कर रही विरोध।

मुंबई (भाषा)। वरिष्ठ कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने अभिनेता अमिताभ बच्चन से आग्रह किया कि वह व्यापारी वर्ग का निशाना बनने से बचने के लिए जीएसटी के प्रचार अभियान से हट जाएं। सरकार ने एक जुलाई से देश में शुरू हो रही नई कर प्रणाली से पहले अमिताभ को वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के प्रचार अभियान में शामिल किया है।

केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड 74 वर्षीय अमिताभ को जीएसटी का ब्रांड अंबेसेडर बनाएगा। उनका 40 सेकेंड का एक वीडियो शूट भी हो चुका है और उसे प्रसारित किया जा रहा है। निरुपम ने यहां संवाददाताओं से कहा, ''जीएसटी कांग्रेस का बहुत ही अच्छा विचार था। यह भी एक अलग कहानी है कि विपक्ष में रहते हुए भाजपा ने इसका विरोध किया था। लेकिन सत्ता में आने के बाद उसने जीएसटी की बुनियादी अवधारणाओं को कमजोर करना शुरू कर दिया और यह हमें स्वीकार्य नहीं है।'' उने कहा कि कांग्रेस ने एक कर के तौर पर जीएसटी की मांग की थी लेकिन भाजपा ने चार कर स्लैब बना दी हैं और तीन अलग-अलग तरह की जीएसटी ला रही है।

ये भी पढ़ें- जेटली जी, काजल-लिपस्टिक से ज्यादा जरूरी था सेनेटरी नैपकिन टैक्स फ्री रखते ...

निरुपम ने कहा, ''अब यह बहुत जटिल हो गया है. व्यापारियों और सेवा प्रदाताओं को हर महीने तीन लंबे फॉर्म भरने होंगे। इस तरह, जीएसटी का बुनियादी मकसद ही समाप्त हो जाता है। दूसरे देशों में जिस तरह जीएसटी को लागू किया गया है, यह उससे अलग है।'' उन्होंने कहा, ''कुछ लोग संशय पैदा कर रहे हैं कि हम उस जीएसटी का विरोध कर रहे हैं जिसे पारित किया जा चुका है, लेकिन यह सच नहीं है.हम हमेशा जीएसटी के पक्षधर रहे हैं लेकिन इस रूप में नहीं।'' उन्होंने कहा, ''हमने तीन साल तक कोशिश की कि सरकार हमारी चिंता पर ध्यान दे लेकिन उन्होंने हमें बदनाम करना शुरू कर दिया तो हमें इसे पारित कराना पड़ा।''

ये भी पढ़ें- 30 जून की आधी रात को संसद में लांच होगा जीएसटी

निरुपम ने कहा, ''इसलिए मेरी सलाह है कि अमिताभ बच्चन को भाजपा की हर मूर्खता में शामिल नहीं होना चाहिए। आप एक जानीमानी शख्सियत हैं और आपकी छवि शानदार है और अगर व्यापारियों ने हमला बोला तो आपकी छवि खराब हो सकती है।' कांग्रेस नेता ने कहा, ''आपका प्रशंसक होने के नाते मैं आपको सुझाव देता हूं कि जीएसटी के प्रचार अभियान से हट जाएं।''

Share it
Share it
Share it
Top