राहुल गांधी की मौजूदगी में 9 साल बाद री-लॉन्च हुआ कांग्रेस का नेशनल हेराल्ड 

Tauseef AhmadTauseef Ahmad   12 Jun 2017 3:06 PM GMT

राहुल गांधी की मौजूदगी में 9 साल बाद  री-लॉन्च हुआ कांग्रेस का नेशनल हेराल्ड 15 अगस्त, 1965 को प्रकाशित नेशनल हेराल्ड अख़बार की छायाप्रति 

लखनऊ। कांग्रेस पार्टी ने अपने अख़बार नेशनल हेराल्ड को आज फिर से लॉन्च किया, जिसे पूर्व प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू ने स्थापित किया था। इस अखबार की रीलॉन्चिंग बेंगलुरू के अंबेडकर भवन में उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में हुई।

इसके बाद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा 20 जून को नई दिल्ली में अखबार का औपचारिक प्रिंट रि-लॉन्च किया जाएगा। राजधानी बेंगलुरू में राहुल गांधी राष्ट्रीय नेशनल हेराल्ड का स्मारक प्रकाशन जारी करेंगे। इस बीच राहुल गांधी कर्नाटक के मंत्रियों और पार्टी विधायकों के साथ मीटिंग भी करेंगे। इसके साथ ही साथ विधान पार्षदों को फंड जुटाने के साथ ही 2000 सब्सक्राइबर्स तैयार करने का टागरेट भी दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें- जम्‍मू-कश्‍मीर : पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर उल्‍लंघन, 6 दिन में मारे गए 13 आतंकी

बेंगलुरू में अंबेडकर भवन में होने वाले इस कार्यक्रम में राज्‍यपाल वजूभाई रुदाभाई वाला, कांग्रेस यूनिट के चीफ जी परमेश्वर समेत मुख्यमंत्री सिद्धारमैया भी हिस्सा लेंगे। बैठक में करीब 1500 कार्यकर्ता शामिल होंगे। राहुल गांधी ने ट्वीट कर अपने इस कार्यक्रम की जानकारी दी।

अखबार राष्ट्रीय राजधानी से साप्ताहिक प्रकाशित किया जाएगा। ऑनलाइन वेब संस्करण 'नेहेरलहेल्ड डॉट कॉम' पिछले साल से कार्यात्मक रहा है और इसके संपादक नीलाभ मिश्रा हैं।

अखबार का प्रिंट संस्करण मूल रूप से लखनऊ 9 सितंबर, 1 9 38 से शुरू किया गया था, उस समय के संपादक पंडित जवाहरलाल नेहरू थे, लेकिन बाद में वित्तीय बाधाओं के कारण इसे 2008 में बंद कर दिया गया था।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी, कांग्रेस के कोषाध्यक्ष मोतीलाल वोरा, कांग्रेस नेता ऑस्कर फर्नांडीस, सुमन दुबे और सैम पित्रोदा के खिलाफ मामला दायर किया था। स्वामी के आवेदन का आरोप है कि कांग्रेस ने नेशनल हेराल्ड अखबार के मालिक एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) को 90.25 करोड़ रुपये का ब्याज रहित ऋण दिया, और कहा कि कांग्रेस ऋण में घपला कर रही है और इसे नकद में नहीं चुकाया गया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top