प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'राष्ट्र के नाम संदेश' के खिलाफ सीपीआई (एम) ने की चुनाव आयोग में शिकायत

सीपीआई (एम) के महासचिव सीताराम येचुरी ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर कहा कि पीएम का राष्ट्र के नाम संबोधन, चुनाव आचार सहिंता का उल्लंघन है।

गाँव कनेक्शनगाँव कनेक्शन   27 March 2019 10:23 AM GMT

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'राष्ट्र के नाम संदेश' के खिलाफ सीपीआई (एम) ने चुनाव आयोग में अपनी शिकायत दर्ज कराई है। सीपीआई (एम) के महासचिव सीताराम येचुरी ने पत्र लिखकर कहा कि यह चुनाव आचार सहिंता का उल्लंघन है।

येचुरी ने इसरो और डीआरडीओ को बधाई देते हुए कहा कि आमतौर पर संबंधित एजेंसिया अपनी उपलब्धि के बारे में देश को बताती हैं लेकिन पीएम मोदी ने चुनावी फायदे के लिए वैज्ञानिकों की इस उपलब्धि को भुनाना चाहा है। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब चुनाव आचार संहिता लागू है और नरेंद्र मोदी खुद एक उम्मीदवार हैं, तो ऐसे कार्यक्रमों की इजाजत कैसे दी जा सकती है?

येचुरी ने चुनाव आयोग से सवाल किया कि क्या इसके बारे में चुनाव आयोग को पता था और क्या चुनाव आयोग ने नरेंद्र मोदी को इसके लिए इजाजत दी थी? येचुरी ने लिखा कि पूरा देश इन सवालों के जवाब जानना चाहता है।

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने अपने ट्वीट में डीआरडीओ को बधाई दी। जबकि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वर्ल्ड थिएटर डे की बधाई देते हुए उन पर कटाक्ष किया।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार सुबह एक ट्वीट कर जल्द ही एक महत्वपूर्ण सूचना साझा करने की जानकारी दी थी। इसके बाद वह टीवी चैनलों पर लाइव आए और बताया कि भारत अमेरिका, रूस और चीन के बाद चौथा देश बन गया है जिसे लो अर्थ आर्बिट में लाइव सैटेलाइट को गिराने की शक्ति प्राप्त हो चुकी है।

पढ़ें- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का देश के नाम संदेश, अंतरिक्ष महाशक्ति बना भारत

जानिए क्‍या है LEO सैटेलाइट, जिसे भारत ने मार गिराया

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top