कोडियार बालकृष्ण का आरोप- सेना किसी भी महिला को उठा कर दुष्‍कर्म कर सकती है

कोडियार बालकृष्ण का आरोप- सेना किसी भी महिला को उठा कर दुष्‍कर्म कर सकती हैप्रतीकात्मक फोटो।

नई दिल्ली। कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (CPM) के सचिव कोडियार बालकृष्ण ने सेना पर बेहद विवादित बयान दिया है। कन्नूर में बालकृष्णन ने अल्पसंख्यकों के संरक्षण पर एक सेमिनार में कहा, ''वे (सेना) किसी के साथ कुछ भी कर सकते हैं। चार से ज्यादा लोगों को साथ देखने पर उन्‍हें गोली मार सकती है, वह किसी भी महिला को उठा कर दुष्‍कर्म कर सकती है, किसी को उनसे सवाल करने का अधिकार नहीं, जिस भी राज्‍य में सेना है, वहां ऐसी ही स्‍थिति है।''

सीपीएम नेता ने कहा, ''आतंकवाद पर लगाम लगाने के लिए आफ्सपा (सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम) जम्मू-कश्मीर, नगालैंड में लागू किया गया। इन राज्यों में अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं पर सेना ने ज्यादती की।''

कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (CPM) के सचिव कोडियार बालकृष्ण।

अगर यह अधिनियम कन्नूर में लागू कर दिया गया तो यही होगा, जैसा कि बीजेपी और आरएसएस मांग कर रहे हैं। इसलिए इसे यहां लागू करने की मांग का विरोध करने के लिए सभी लोगों को आगे आना चाहिए।
कोडियार बालकृष्ण, सचिव, कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (CPM)

ये भी पढ़ें : जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की कोशिश कर रहे चार आतंकी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

दरअसल, यहां इस महीने की शुरुआत में सत्तारूढ़ सीपीएम के कथित कार्यकर्ताओं ने आरएसएस के एक कार्यकर्ता की हत्या कर दी थी। इसके बाद राज्य में होने वाली राजनीतिक हत्यों पर ध्यान दिलाते हुए केरल बीजेपी के अध्यक्ष कुम्मनन राजशेखरण ने कन्नूर में अफ्सपा लगाने की मांग की थी, जिसके विरोध में बालकृष्णन ने यह बयान दिया।

सीपीएम सचिव के इस विवादित बयान पर बीजेपी ने कड़ी प्रतिक्रिया जताई है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता जेआर पद्मकुमार ने कहा कि बालकृष्णन का बयान लोगों और देश का गौरव कहलाने वाली सेना को महिलाओं के अपहरणकर्ता और हमलावर के रूप में चित्रित करता है जो देशद्रोह है। उन्होंने यह मांग भी की कि पुलिस सीपीएम नेता के खिलाफ एक आपराधिक मामला दर्ज करे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top