हरियाणा में लगातार दूसरे दिन गिरे ओले, सरसों और गेहूं की फसल को नुकसान

हरियाणा में लगातार दूसरे दिन गिरे ओले, सरसों और गेहूं की फसल को नुकसान

लखनऊ। हरियाणा में लगातार दूसरे दिन कई इलाकों में ओला गिरन से सरसों और गेहूं की फसल को नुकसान हुआ है। मंगलावार को सिरसा और फतेहादाबाद में ओले गिरे थे, जबकि बुधवार को भिवानी इलाके में लगभग 4 बजे ओले गिरे हैं।

मौसम विभाग ने इसी हफ्ते 26 और 27 नवंबर के लिए चेतावनी जारी चेतावनी में हरियाणा के कुछ जिलों में बारिश और ओले गिरने की आशंका जताई थी। पश्चिमी विक्षोभ के चलते मंगलवार को अचानक मौसम बदला और दोपहर बाद कहीं बारिश तो कईं बादल छा गए। सिरसा और फतेदाबाद में ओले भी गिरे। सिरसा में डिग गांव के किसान मनोज सांगवान ने गांव कनेक्शन को अपनी बर्बाद हुई सरसों की फसल का वीडियो भी भेजा। उन्होंने बताया कि सिरसा में उनके गांव के आसपास दोपहर करीब तीन बजे तेज ओले गिरे, जिससे 3-4 गांवों सरसों और गेहूं की फसल को भारी नुकसान पहुंचा है।"

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सिरसा और फतेहाबाद के साथ कुरुक्षेत्र, जींद, यमुनानगर, अंबाला, कैथल में भी ओले गिरे हैं। ओले और बारिश के बाद मौसम में सर्दी बढ़ गई है। किसानों के मुताबिक सबसे ज्यादा नुकसान सरसों को हुआ है क्योंकि ओले से सरसों के कोमल पौधे पूरी तरह टूट गए हैं।

ख़बर अपडेट हो रही है…

इससे पहले महाराष्ट्र में बदले मौसम के चलते अक्टूबर में भारी बारिश हुई, जिससे किसानों को काफी नुकसान हुआ। फसल नुकसान के चलते मराठवाडा़ में कई किसानों ने आत्महत्या कर ली है।


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top