ओखी: चक्रवात से 4 नाविक और 13 बोट गायब, नेवी ने उतारे 5 जहाज

ओखी: चक्रवात से 4 नाविक और 13 बोट गायब, नेवी ने उतारे 5 जहाजप्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ। दक्षिण भारत में एक बार फिर से चक्रवाती तूफान ने दस्तक दे दी है। चक्रवात ‘ओखी’ के कारण तमिलनाडु और केरल के दक्षिणी जिलों में मूसलाधार बारिश हो रही है। जिससे आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ और आठ लोगों की मौत हो गई। वहीं, तमिलनाडु के 4 नाविक और केरल की 13 बोट गायब हैं। बताया जा रहा है कि इन 13 बोट पर 38 लोग सवार थे।

चक्रवात के मद्देनजर सर्च ऑपरेशन के लिए इंडियन नेवी के 5 शि‍प कोच्चि से चले हैं। वहीं लक्ष्यद्वीप में 2 शि‍प को स्टैंडबाय पर रखा गया है। इसके अलावा P8I एयरक्राफ्ट और कोस्ट गार्ड भी रेस्क्यू और सर्च ऑपरेशन में लगे हैं। इस चक्रवात के कन्याकुमारी से 60 किलोमीटर दक्षिण में रहने के समय अगले 24 घंटे में भारी बारिश का अंदेशा जताया गया था। यह चक्रवाती तूफान लक्षद्वीप की ओर बढ़ रहा है और यह दो दिसंबर तक यहां पहुंच जाएगा।

ये भी पढ़ें- खेती करते हुए चोटिल हो जाने पर इलाज का पूरा पैसा देगी मंडी परिषद

भारतीय मौसम विज्ञान की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार 65-75 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवा चल रही है और दक्षिणी केरल में अगले 48 घंटों और दक्षिणी तमिलनाडु में 24 घंटों के भीतर इसके 85 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंचने की संभावना है।

राहुल गांधी ने टाला केरल दौरा

चक्रवात ओखी के चलते कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने केरल का दो दिवसीय दौरा टाल दिया है वो शुक्रवार को ही केरल रवाना होने वाले थे। कांग्रेस नेता को यहां ‘पदयोरुक्कम’ के समापन समारोह का उद्घाटन करने के लिए आना था।

केंद्र में भाजपा की सरकार और केरल में माकपा नीत एलडीएफ सरकार के खिलाफ कांग्रेस नीत यूडीएफ ने राज्यभर में इस तरह का अभियान चलाया है। राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा कि खराब मौसम की वजह से राहुल का दौरा टाल दिया गया है। उनके दौरे की आगामी तारीखों का जल्द ही ऐलान किया जाएगा।

ये भी पढ़ें- दिल्ली निवासी ने खुला पत्र लिखकर ओबामा से की मास्क पहनने की अपील

समंदर में उठेंगी ऊंची लहरें

चक्रवाती तूफान के चलते इन इलाकों में अगले 12 घंटे से लेकर 48 घंटे तक समंदर की ऊंची-ऊंची लहरें उठेगी। मौसम विभाग ने दक्षिण केरल में अलपुझा कोट्टयम इडुक्की कोल्लम तिरुवनंतपुरम जिलों में नुकसान की आशंका जाहिर की है। इसके साथ इन जिलों से लगे हुए तमिलनाडु के कन्याकुमारी टूटूकुड़ी तिरुनेलवेली जिलों में भी मौसम के चलते नुकसान होने की आशंका जताई गई है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top