केजरीवाल की इफ्तार पार्टी में ‘विश्वास’ नहीं

केजरीवाल की इफ्तार पार्टी में ‘विश्वास’ नहींइफ्तार पार्टी में केजरीवाल

नई दिल्ली। अब आम आदमी पार्टी को अंदरूनी विवाद धीरे-धीरे खुलकर सामने आ रहा है। केजरीवाल और कुमार विश्वास के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। इस बात की सबूत यह है कि सीएम केजरीवाल ने आप की इफ्तार पार्टी में इस बार कुमार को न्योता नहीं दिया।

दिल्ली में सत्ता संभालने के बाद सीएम केजरीवाल ने तीसरी बार इफ़्तार पार्टी दी। इससे पहले दो बार कुमार विश्वास इफ़्तार पार्टी में आमंत्रित किए गए थे, लेकिन हाल ही में उठे अंदरूनी विवाद के बाद शुक्रवार को हुई सीएम केजरीवाल की इफ़्तार पार्टी का विश्वास को निमंत्रण तक नही भेजा गया।

ख़बरों के मुताबिक, इफ़्तार पार्टी में नहीं बुलाए जाने की जानकरी देते हुए विश्वास ने कहा, यह दिल्ली सरकार का विशेष अधिकार है कि इसमें किसे बुलाया जाए और किसे नहीं। जंतर-मंतर में जो आंदोलन शुरू हुआ था, वो इसलिए तो नहीं हुआ था कि दिल्ली सरकार मुझे इफ्तार पार्टी में बुलाए या न बुलाए। यह सवाल गैर जरूरी है। दिल्ली के टैक्स के पैसे हैं।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इस दौरान कुमार विश्वास ने सोशल मीडिया पर हो रही बयानबाजी करने वालों को भी आड़े हाथों लिया है। कुमार ने कहा, 'मैं इस पर टिप्पणी नहीं करूंगा, लेकिन जो लोग ट्विटर को देश समझते हैं, वही देश को ट्विटर समझते हैं। ट्विटर अपनी बात को रखने का माध्यम है, सत्य नहीं है।'

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top