Top

दिल्ली सरकार एक ऐलान, 72 लाख लोगों को 2 महीने का मुफ्त राशन, ऑटो-टैक्सी चालकों को 5 हजार रुपए की मदद

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह फ्री राशन लोगों को अगले 2 महीने तक दिया जाएगा। इसका मतलब ये नहीं है कि लॉकडाउन अगले दो महीने तक बढ़ने जा रहा है।

दिल्ली सरकार एक ऐलान, 72 लाख लोगों को 2 महीने का मुफ्त राशन, ऑटो-टैक्सी चालकों को 5 हजार रुपए की मदद

दिल्ली में लॉकडाउन के बीच दिल्ली सरकार ने राहत देने की घोषणा की है। (फोटो- ANI से साभार)

कोरोना महामारी के दौर में आम लोगों को राहत देने के लिए दिल्ली की अरविन्द केजरीवाल सरकर ने घोषणा की है कि दिल्ली में 72 लाख राशन कार्ड होल्डर्स को मुफ्त राशन दिया जाएगा। इसके अलावा दिल्ली में जितने भी ऑटो और टैक्सी चालक हैं, उन्हें आर्थिक सहायता के रूप में 5 हजार रुपए की मदद दी जाएगी।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह फ्री राशन लोगों को अगले 2 महीने तक दिया जाएगा। इसका मतलब ये नहीं है कि लॉकडाउन अगले दो महीने तक बढ़ने जा रहा है। यह घोषणा केवल इसलिए की जा रही है कि जिन गरीबों के काम धंधे बंद हो गए हैं। उन्हें इस महामारी के दौर में सरकार की ओर से थोड़ी मदद दी जा सके।

Also Read:ग्रामीण इलाकों में जांच की रफ्तार और रिपोर्ट दोनों सुस्त, 10-12 दिन में आ रही कोरोना की आरटीपीसीआर रिपोर्ट

उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली में जितने भी ऑटो टैक्सी चालक हैं, उनके अकाउंट में दिल्ली सरकार 5000 भेजेगी। इसे इस आर्थिक तंगी के दौर में उनको मदद मिलेगी। 1,56,000 ऐसे ऑटो टैक्सी ड्राइवर की मदद पिछली बार की थी ऐसे सभी लोगों को इस बार की मदद मिलेगी।

सीएम केजरीवाल ने बताया कि कोरोना से निपटने के लिए दिल्ली में हमने लॉकडाउन लगाया है। यह इसलिए लगाया गया था कि चेन टूटता के मामलों में कमी आ सके। लॉकडाउन उन लोगों के लिए आर्थिक संकट पैदा कर देता है जो रोज कमाते हैं रोज खाते हैं।

उन्होंने लोगों से अपील भी की कि इस समय कोई किसी भी पार्टी का हो सब लोग आपस में मिलकर एक दूसरे की मदद करें इस वक्त कोई राजनीति नहीं करनी है चाहे किसी भी धर्म या जाति के हो चाहे अमीर हो या गरीब हो सब एक दूसरे की मदद करें। अगर किसी को अस्पताल नहीं मिल रहा है तो उसको अस्पताल दिलवाने में मदद करें अगर किसी को बेड नहीं मिल रहा तो उसको बेड दिलवाने में मदद कर सकते हैं। किसी के घर में कोई बीमार है तो उसको खाना खिलाने में या उनके घर खाना पहुंचाने में मदद कर सकते हैं। गरीब लोगों को आर्थिक मदद की जा सकती है। अगर हम सब मिलकर इस से लड़ेंगे तो मुझे उम्मीद है कि बहुत जल्द हम कोरोना से जीत पाएंगे।

Also Read:गांवों तक पहुंचा कोरोना, गांव के गांव बुखार से पीड़ित, मेडिकल स्टोर के सहारे इलाज

देश की राजधानी नई दिल्ली में बीते 24 घंटों के दौरान कोविड से रिकॉर्ड 448 लोगों की मौत दर्ज की गई जबकि इस दौरान 18,043 नए मामले सामने आए जो 15 अप्रैल के बाद से सबसे कम हैं। संक्रमण दर 29.56 प्रतिशत दर्ज की गई। यह लगातार तीसरा दिन है जब राष्ट्रीय राजधानी में महामारी से मरने वालों की संख्या 400 के पार है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.