दिल्ली: अब कमर्शियल के साथ रेजिडेंशियल पार्किंग के लिए भी देने होंगे पैसे

दिल्ली: अब कमर्शियल के साथ रेजिडेंशियल पार्किंग के लिए भी देने होंगे पैसेसाभार: इंटरनेट।

बढ़ते ट्रैफिक को लेकर दिल्ली सरकार बड़ा बदलाव करने जा रही है। दिल्ली सरकार अब पार्किंग को लेकर नए इंतजाम करने जा रही है। सरकार के पार्किंग मैनेजमेंट एरिया प्लान के मुताबिक कमर्शियल के साथ रेजिडेंशियल पार्किंग के लिए भी पैसे चुकाना होगा। सीधे शब्दों में कहें तो अब फ्री पार्किंग खत्म करने की तैयारी है। मकसद गाड़ियों के बोझ को कम करना है। कमर्शियल पार्किंग शुल्क से जुड़े नए नियम मार्च से लागू हो सकते हैं। वहीं रेजिडेंशियल पार्किंग शुल्क पर फैसला जुलाई तक लिया जाएगा।

सरकार ने पार्किंग के नए नियम दिल्ली ट्रांसपोर्टेशन की वेबसाइट पर अपलोड कर दी है ताकि आम लोग अपनी प्रतिक्रिया दे सकें। कमिश्नर ट्रांसपोर्ट वर्षा जोशी ने कहा, 'नगर निगम को अपने-अपने इलाकों में तैयारी के लिए चार महीनों का वक्त दिया जाएगा। ये प्लान तैयार होने के बाद पार्किंग फीस पर फैसला किया जाएगा।'

ये भी पढ़ें- भारतीय रेल : जल्द ही महज 4 घंटे में तय होगा लखनऊ से दिल्ली तक का सफर

ये होगा नया नियम

  • नए नियम के मुताबिक, सड़कों पर पार्किंग के दौरान चौराहे के चारों तरफ की सड़कों पर 50 मीटर तक कोई पार्किंग नहीं होगी।
  • डायनेमिक प्राइसिंग मैकेनिज्म के तहत पीक और नॉन पीक में पार्किंग शुल्क अलग-अलग होगा। यह हर एक घंटे के बाद बढ़ता रहेगा।
  • रेजिडेंशियल इलाकों में भी पार्किंग के लिए पैसा देना होगा।
  • पार्किंग के रेट शहर के पॉल्यूशन लेवल से लिंक होगा। यानी दिल्ली में प्रदूषण ज्यादा रहेगा तो शुल्क ज्यादा लगेगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top