भारतीय सुपर फूड : ज़ायके के साथ अच्छी सेहत का कनेक्शन

भारतीय सुपर फूड : ज़ायके के साथ अच्छी सेहत का कनेक्शनसुपरफूड की विदेशों में बढ़ रही मांग।

बदलती जीवन शैली के साथ साथ लोगों नें अपने खान पान के तौर तरीके भी बदले हैं। पहले जहां सुबह के नाश्ते में घर पर पराठा- सब्जी बनता था, वहीं उस नाश्ते की जगह अब मसाला ओट्स और हर्ब सैलेड ने ले ली है। बनारस की रहने वाली न्यूट्रीशन कंसल्टेंट संगीता खन्ना पिछले 10 वर्षों से घर पर आसानी से सुपर फूड बनाने के बारे में लोगों को बता रही हैं। इन भारतीय पकवानों को देश और विदेशों में पसंद करने वाले लोगों की संख्या हज़ारों में है।

'' हमारे आस पास इतनी सारी वनस्पतियां हैं, जिन्हें हम अपने रोज़ के खाने में शामिल कर के स्वादिष्ट और हेल्दी खाना बना सकते हैं। लोगों को घर पर आसानी से पौष्टिक खाना बनाने के तरीके मैं पिछले 10 साल से अपने ब्लॉग हेल्थफूडदेशीविदेशी और बनारस का खाना की मदद से बता रही हूं। दोनों ही ब्लॉगों को भारत के साथ साथ दुनियाभर के लोग पसंद कर रहे हैं।'' संगीता खन्ना बताती हैं।

न्यूट्रीशन कंसल्टेंट संगीता खन्ना पिछले 10 वर्षों से सुपर फूड बनाने के बारे में लोगों को बता रही हैं।

घरेलू खाने में आयुर्वेदिक और मैक्रोबायोटिक तरीकों को अपनाकर बनाया गाया खाना सुपर फूड कहलाता है। ये सुपर फूड हमारे शरीर को वो ज़रूरी पौष्टिक तत्व देते हैं ,जिससे हम लंबे समय तक निरोगी रह सकते हैं। संगीता खन्ना के सुपर फूड बनाने के नुस्खों को आज अमेरिका, अॉस्ट्रेलिया , कनाडा और यूरोपीय देशों के लोग पसंद कर रहे हैं। उनसे सुपर फूड बनाने का ढंग और बनारस के खास पकवान तैयार करने की विधि जानने के लिए कई बड़े भारतीय होटलों ने उन्हें ट्रेनिंग देने के लिए भी बुलाया है।

कई बड़े भारतीय होटल भी ले चुके हैं संगीता से सुपर फूड बनाने की ट्रेनिंग।

सुपर फूड के बारे में संगीता आगे बताती हैं कि भारतीय पकवानों में कई तरह के मसालों और वनस्पतियों का प्रयोग बहुत पहले से होता आ रहा है। साधारण आहार और सुपर फूड में फर्क बस इतना है कि सुपर फूड में इस्तेमाल किए जाने वाले इंग्रेडियंट्स ( आहार सामग्री) संतुलित होते हैं। मेरे ब्लॉग हेल्थफूडदेशीविदेशी में मैंने ग्लूटेन फ्री ब्रेकफास्ड, हार्ट हेल्दी फूड और डायबेटिक फूड से जुड़े सैकड़ों व्यंजन बनाने के तरीके बताए हैं।

भारतीय पकवानों में कई तरह के मसालों और वनस्पतियों का प्रयोग होता आ रहा है।

हेल्थफूडदेशीविदेशी में अपको सहंजन के पत्तों से अच्छा मसाला बनाना , ग्लूटेन फ्री बेसन का चिल्ला, प्रोटीन मिल्क शेक, कच्चे केले के कबाब , घरेलू सब्जियों का प्रयोग कर के पौष्टिक पास्ता बनाना और खजूर के बिस्कुट जैसे कई पौष्टिक सुपर फूड बनाने के तरीके मिल जाएंगे।

ग्लूटेन फ्री बेसन का चिल्ला ।

बचपन से ही खाना बनाने की शौकीन रहीं संगीता बताती हैं, '' अपनी सेहत का ख़याल रखने वाले लोग आज सुपर फूड को खाना पसंद कर रहे हैं। हेल्थ डाइट खाने का चलन सिर्फ शहरों में ही नहीं बल्कि गाँवों में भी तेज़ी से बढ़ रहा है। मेरे ब्लॉग पर लोग इस खाने को बनाना सीखते हैं और उसके फायदे के बारे में भी मुझे बताते हैं।''

तो अगली बार आप अपने सुबह नाश्ते पर लगी थाली की महक को महसूस करते हुए, यह भी सोचिए कि आपका नाश्ता कितना पौष्टिक है। क्या आपका नाश्ता सुपर फूड से बेहतर है।

Share it
Share it
Share it
Top