अंधविश्वास के चलते बुजुर्ग महिला को आग में जिंदा जलाया

अंधविश्वास के चलते बुजुर्ग महिला को आग में जिंदा जलायाबिहार में अंधविश्वास का एक मामला प्रकाश में आया है।

पूर्णिया (आईएएनएस)| बिहार में अंधविश्वास का एक मामला प्रकाश में आया है। इस घटना से जहाँ मानवता एक बार फिर शर्मसार हुई है तो वहीँ पुलिस प्रशासन पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। जानकारी के मुताबिक बिहार के पूर्णिया जिले के मोहनपुर गाँव में वहां के लोगों ने एक बुजुर्ग महिला को डायन बताकर आग में जलाकर मारडाला। मामले की जानकारी जैसे ही पुलिस को हुई पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

मामले में पुलिस ने बताया कि सोमवार को कांप गाँव के चिकरू महलदार के 12 वर्षीय बेटे भीम कुमार की सांप के काटने से मौत हो गई थी। चिकरू व परिजनों ने आरोप लगाया कि पड़ोस ही रहने वाली 80 वर्षीय महिला रामवती देवी के कारण उसके बेटे भीम की मौत हुई। अंधविश्वास के चलते चिकरू व परिजनों ने बेटे को जिन्दा करने के लिए रामवती पर दबाव बनाया लेकिन रामवती बच्चे को जिंदा करने के लिए राज़ी नहीं हुई।

सोमवार रात करीब 12 बजे चिकरू सहित उसके परिजनों ने रामवती को घर से खींच कर बहार निकाला और उसकी पिटाई शुरू करने लगे साथ ही रामवती पर डायन होने का भी आरोप लगाया। इतने से भी मन नहीं भरा तो चिकरू ने बुजुर्ग महिला पर मिट्टी का तेल छिड़क कर उस जला दिया जिससे रामवती की मौके पर ही मौत हो गई।

मोहनपुर सहायक थाना के प्रभारी राजकिशोर मंडल ने मंगलवार को आईएएनएस को बताया कि मृतका की बहू कविता देवी के बयान पर हत्या की एक प्राथमिकी मोहनपुर थाना में दर्ज कर ली गई है, जिसमें चिकरु सहित छह लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने चिकरु को गिरफ्तार कर लिया है तथा अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top