गाजीपुर बॉर्डर पर गहमागहमी: किसानों को हटने का अल्टीमेटम, टेंट हटाये जा रहे, राकेश टिकैत ने कहा- आंदोलन जारी रहेगा

26 जनवरी को हिंसा के बाद किसान नेताओं पर कार्रवाई तेज हो गई है। गाजीपुर बॉर्डर से किसानों को हटने का अल्टीमेटम दे दिया गया है। वहां से किसानों के टेंट हटाये जा रहे हैं।

Arvind ShuklaArvind Shukla   28 Jan 2021 10:54 AM GMT

गाजीपुर बॉर्डर से लाइव

गणतंत्र दिवस के दिन हिंसा के बाद दिल्ली पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। गुरुवार को कई किसान नेताओं को नोटिस दिया गया। इस बीच भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि अगर सरकार इस आंदोलन को नहीं चलने देना चाहती तो हमें गिरफ्तार कर लिया जाये। उन्होंने किसान ट्रैक्टर रैली में आये किसानों को धन्यवाद भी दिया।

किसानों को संबोधित करते किसान नेता राकेश टिकैत।

गाजीपुर बॉर्डर पर ही राकेश टिकैत ने किसानों को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि किसानों को दिल्ली के चक्रव्यूह में फंसाया गया। जिन लोगों ने उल्टे सीधे ट्रैक्टर घुमाए उनसे हमारा कोई संबंध नहीं है। हिंसा का शब्द हमारी डिक्शनरी में ना है और ना रहेगा। लाल किले में जो कुछ भी हुआ उससे आंदोलन को तोड़ने की साजिश रची गई।

टिकैत ने आगे कहा कि प्रशासन जो चाहता था वही हुआ। जो जत्था वहां पहुंचा था पुलिस ने उसे बैरिकेडिंग पर नहीं रोका। अधिकारियों से बातचीत के बाद उन्हों जाने दिया गया। यह वैचारिक लड़ाई है। वैचारिक क्रांति है। यह विचार से ही खत्म होगी, लाठी, डंडे से नहीं। उन्होंने यह भी कहा मैं पुलिस की नोटिस से नहीं डरता।

गाजीनुर बॉर्डर पर अफरातफरी का माहौल है।

गाजीपुर बॉर्डर पर इस समय हलचल तेज हो गई है। स्थानीय लोग किसानों के धरने के खिलाफ जुटे हैं। वे लगातार नारेबाजी कर रहे हैं। पुलिस बलों की संख्या बढ़ रही है।

गाजीपुर बॉर्डर से किसानों को हटने का अल्टीमेट जिला प्रशासन द्वारा दे दिया गया है। किसानों के टेंट हटाये जा रहे हैं। इस बीच भारतीय किसान यूनियन के नेता धर्मेंद्र मलिक ने गांव कनेक्शन से कहा कि राकेश टिकैत सरेंडर करने जा रहे, ये अफवाह है, आंदोलन जारी रहेगा, बीजेपी विधायक आंदोलन खत्म करने की साजिश रच रहे है।

राकेश टिकैत ने कहा है कि अगर गिरफ्तारी हुई तो मैं फांसी लगाऊंगा। उन्होंने बीजेपी नेताओं पर कई गंभीर आरोप लगाये। उन्होंने कहा कि हम शांति से गिरफ्तारी देने के लिए तैयार थे लेकिन अब नहीं देंगे। यहीं रहूंगा और गोली खाऊंगा।

गाजीपुर बॉर्डर जिला प्रशासन किसान और किसान नेता राकेश टिकैत से बात करने पहुंचा था, लेकिन बात नहीं बन पाई। इसके बाद राकेश टिकैत ने कहा कि भाजपा के विधायक साजिश कर रहे हैं। हम किसानों को छोड़कर जा नहीं सकते। पहले हम गिरफ्तारी देने वाले थे, लेकिन अब नहीं देंगे। बात करते-करते वे रोने भी लगे।

Updating...

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.