बारिश की गलत भविष्यवाणी पर किसानों ने मौसम विभाग के खिलाफ की पुलिस में शिकायत

बारिश की गलत भविष्यवाणी पर किसानों ने मौसम विभाग के खिलाफ की पुलिस में शिकायतमराठावाड़ा क्षेत्र के किसानों ने मौसम विभाग के खिलाफ पुलिस मे शिकायत कर दी (फोटो: गांव कनेक्शन)

मुंबई (भाषा)। पिछले साल महाराष्ट्र के मराठवाड़ा में सूखे की वजह से बर्बादी झेल चुके किसानों को इस बार मौसम विभाग ने उम्मीद दिखाई थी। उम्मीद खरीफ सीजन में अच्छी बारिश की, जिसके अनुसार किसानों ने बुवाई भी कर ली थी लेकिन पूर्वानुमान गलत निकला और किसान को फिर नुकसान झेलना प़ड़ा। इसके बाद किसानों ने जो कदम उठाया उसकी सराहना हर ओर हो रही है।

मराठावाड़ा क्षेत्र के किसानों ने मौसम विभाग के खिलाफ पुलिस मे शिकायत कर दी। मराठवाड़ा के बीड जिले के मजल्गांव के रहने वाले किसानों ने मौसम विभाग पर बीज और कीटनाशक विनिर्माताओं के साथ सांठगांठ करके पूर्वानुमान के आंकड़ों को बढ़ाकर दिखाने के आरोप में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। इसमें कहा गया है कि पुणे और कोलाबा मौसम विभाग के अधिकारियों ने विनिर्माताओं से सांठगांठ की और इनकी वजह से किसानों को लाखों रुपए का नुकसान हुआ, जिन्होंने पूर्वानुमान के आधार पर बुवाई का काम शुरू किया था।

पढ़ें किसानों के लिये खुशखबरी, मौसम विभाग के अनुसार इस बार होगी झमाझम बारिश

शिकायतकर्ताओं में शामिल बीड जिले के आनंदगांव के गंगाभिशन ठावरे (54 वर्ष) ने कहा कि मौसम विभाग ने किसानों को गुमराह किया है। उन्होंने कहा कि जून में खरीफ मौसम के दौरान काफी बारिश होगी।

ठावरे ने कहा, 'मौसम विभाग के पूर्वामान के आधार पर किसानों ने बुवाई का काम शुरू कर दिया, लेकिन थोड़ी बारिश होने के बाद वर्षा नहीं हुई और किसानों को अंधकारमय भविष्य नजर आ रहा है क्योंकि बुवाई तो बेकार चली गई।' किसानों ने कहा, 'हमारे क्षेत्र के किसानों ने मौसम विभाग के पूर्वानुमान के आधार पर पूर्व बुवाई का काम शुरू कर दिया था। मौसम विभाग के पूर्वानुमान में कहा गया था कि इस साल जून-जुलाई में काफी बारिश होगी।' ठावरे के मुताबिक किसानों ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को भी पत्र लिखकर उनके दखल की मांग की है। मजल्गांव में स्थित थाने के एक अधिकारी ने बताया कि उन्होंने किसानों की शिकायत ले ली है और वह मामले को देख रहे हैं। मौसम विभाग के किसी अधिकारी की टिप्पणी नहीं मिल सकी।

पढ़ें ये हैं आदिवासियों के मौसम विभाग : घड़े का जल देखकर करते हैं भविष्यवाणी

महाराष्ट्र सरकार की कर्ज माफी घोषणा से खुश नहीं किसान

Share it
Top