क्राइम शो देखकर जागी तांत्रिक बनने की चाह, तीन साल की बेटी को बनाया शिकार

क्राइम शो देखकर जागी तांत्रिक बनने की चाह, तीन साल की बेटी को बनाया शिकारतीन साल की मासूम सोनाक्षी।

लखनऊ। हरियाणा में एक पिता ने हैवानियत की सारी हदें पार कर अपनी 3 साल की मासूम बेटी के साथ कुछ ऐसा किया जिसे सुन आपकी रूह कांप जाएगी। एक ओर देशभर में बेटी बचाओ का नारा दिया जा रहा तो वहीं दूसरी ओर एक पिता ने अपनी बेटी को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के अनुसार आरोपी पिता तांत्रिक बनकर खूब पैसा कमाना चाहता था। इस कारण उसने अपनी बेटी की जान ले ली। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। जानकारी के अनुसार यह घटना फरीदाबाद के सिकरोना गांव की है। आरोपी का नाम धीरज है। एनआईटी निवासी धीरज बैंक में सफाईकर्मी था। धीरज क्राइम सीरियल देखने का बेहद शौकीन था, इन्हीं सीरियल को देखकर वह तांत्रिक बनना चाहता था। उसने तांत्रिक बनने के लिए सबसे पहले बलि देने की योजना बनाई और बलि के लिए उसने अपनी तीन साल की मासूम बेटी सोनाक्षी को चुना।

घुमाने के बहाने सुनसान जगह पर किया बेटी की मर्डर

धीरज अपनी बेटी सोनाक्षी को घुमाने के बहाने फरीदाबाद के सिकरोना गांव ले गया। वहां सुनसान जगह पर उसने अपनी बेटी का मुंह दबाया और फिर नहर में फेंककर उसकी बलि दे दी। धीरज बेहद शातिर था। वारदात को अंजाम देने के बाद उसने बेटी के गायब होने की सूचना देकर अपहरण का मामला दर्ज करवा दिया।

पुलिस गिरफ्त में आरोपी पिता।

अगले दिन तफ्तीश के दौरान पुलिस को नहर से बच्ची की लाश बरामद हुई, लाश की शिनाख्त कर ली गई। सोनाक्षी 11 जुलाई से लापता थी। पुलिस ने सीसीटीवी की मदद से धीरज को पकड़ा। जिसके बाद 11 जुलाई को पूरे मामले का खुलासा होते देर न लगी। सख्ती से पूछताछ में धीरज ने पुलिस के सामने बेटी की बलि देने की बात कबूल कर ली। धीरज ने बताया कि वह क्राइम सीरियल देखकर तांत्रिक बनना चाहता था। तांत्रिक बनने के पीछे उसका मकसद महज दौलत जमा करना था। आरोपी को गुरुवार को कोर्ट में पेश किया जहां से उसे पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है।

ये भी पढ़ें- बेटी मिताली को क्रिकेटर बनाने के लिए मां लीला राज ने छोड़ दी थी अपनी नौकरी

ये भी पढ़ें- पढ़िए खेल की दुनिया में कैसे चमका 500 रुपए महीने कमाने वाले गरीब की बेटी का किस्मत का सितारा

Share it
Top