सुब्रत राय समेत 10 के खिलाफ मुकदमा दर्ज, निवेशकों का पैसा नहीं लौटाने से परेशान एजेंट ने की थी आत्महत्या

बाराबंकी के रहने वाले संदीप (25 वर्ष) ने 26 जुलाई को फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली थी। संदीप सहारा इंडिया में एजेंट थे।

सुब्रत राय समेत 10 के खिलाफ मुकदमा दर्ज, निवेशकों का पैसा नहीं लौटाने से परेशान एजेंट ने की थी आत्महत्या

सतीश कश्यप, बाराबंकी। सहारा इंडिया के डायरेक्टर सुब्रत राय और कंपनी के कर्मचारियों समेत 10 लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला बाराबंकी के रामनगर थाने में दर्ज किया गया है। शनिवार को यह एफआईआर कंपनी के ही एक एजेंट संदीप मौर्या के सुसाइड नोट के आधार पर दर्ज की गई है।

बराबंकी के एसपी वीपी श्रीवास्तव ने जानकारी दी कि आरोपियों के खिलाफ सहारा इंडिया के एजेंट रहे संदीप मौर्या की मां कृष्णावती ने मुकदमा दर्ज कराया है। बाराबंकी के रहने वाले संदीप (25 वर्ष) ने 26 जुलाई को फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली थी। संदीप सहारा इंडिया में एजेंट थे।। संदीप सहारा इंडिया फाइनेंस कंपनी की ओर से निवेशकों का पैसा वापस न मिलने और इस पर निवेशकों के कथित उत्पीड़न से परेशान था।

स्ंदीप की मां कृष्णावती ने अपनी तहरीर में आरोप लगाया है कि कंपनी निवेशकों को अवधि पूरी होने के बाद भी पैसा वापस नहीं कर रही थी। संदीप ने इस सिलसिले में कई बार कंपनी के ब्रांच मैनेजर, रीजनल मैनेजर समेत संबंधित अधिकारियों से मुलाकात की और मामले की जानकारी दी लेकिन निवेशकों के पैसों का कंपनी ने भुगतान नहीं किया। इसके बाद निवेशकों ने संदीप को कई बार मारापीटा और अपमानित किया। इसी से परेशान होकर संदीप ने आत्महत्या कर ली। आत्महत्या से पहले वह सुसाइड नोट लिख गया था। इसमे कंपनी के डायरेक्टर सुब्रत राय, ओपी श्रीवास्तव, अभिजीत सरकार और एरिया मैनेजर प्रदीप श्रीवास्तव का नाम लिया गया है। इसी के आधार पर पुलिस ने कंपनी के निदेशकों समेत 10 लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने की धारा में मुकदमा दर्ज किया।

Share it
Top