गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 के अंतिम चरण में हुआ 68.70 फीसदी मतदान 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   15 Dec 2017 3:27 PM GMT

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 के अंतिम चरण में हुआ 68.70 फीसदी मतदान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अहमदाबाद जिले की साबरमती सीट पर एक स्कूल में मतदान किया।

गांधीनगर (आईएएनएस)। गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 के दूसरे चरण में गुरुवार को ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत के बीच 68.70 फीसदी मतदान हुआ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अहमदाबाद जिले की साबरमती सीट पर एक स्कूल में बनाए गए मतदान केंद्र पर अपना मतदान किया। मोदी की मां हीराबा (90 वर्ष) ने ने भी वोट डाला।

वहीं गुजरात कार्यालय के मुख्य निर्वाचन कार्यालय (सीईओ) के सूत्रों के मुताबिक, दोपहर एक बजे तक लगभग 28 फीसदी मतदान हुआ। बनासकांठा, पाटण, सबरकांठा, मेहसाणा, गांधीनगर, अहमदाबाद, अरावली, महिसागर, पंचमहल, दाहोद, खेड़ा, आनंद, वडोदरा और छोटा उदयपुर जिलों में सुबह आठ बजे से मतदान प्रक्रिया शुरू हो गई और यह शाम पांच बजे तक जारी रहेगी। कुल 14,523 स्थानों पर 25,575 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

वडोदरा और आसपास के शहरों में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में गड़बड़ी को लेकर निर्वाचन आयोग से कई शिकायतें की गईं। कई स्थानों पर ईवीएम में गड़बड़ी की वजह से मतदान प्रक्रिया बाधित हुई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबा (90 वर्ष) ने गांधीनगर के आर्यभट्ट हाई स्कूल में स्थित मतदान केंद्र में अपना वोट डाला। उनके साथ उनके छोटे पुत्र पंकज मोदी और परिवार के अन्य सदस्य भी थे। उन्होंने मतदान केंद्र से बाहर आते हुए संवाददाताओं से कहा, भगवान गुजरात का कल्याण करें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबा ने आज गांधीनगर के आर्यभट्ट हाई स्कूल में स्थित मतदान केंद्र में अपना वोट डाला।

पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने अहमदाबाद के घाटलोदिया विधानसभा क्षेत्र में एक मतदान केंद्र पर वोट डाला, जहां से वह विधायक हैं, वह इस बार चुनाव नहीं लड़ रही हैं। इस बार भाजपा ने इस सीट से भूपेंद्र पटेल को उतारा है जिनका मुकाबला कांग्रेस के शशिकांत पटेल से है। आनंदीबेन पटेल ने कहा, मुझे विश्वास है कि भाजपा एक बार फिर सरकार बनाएगी।

दूसरे चरण के मतदान के तहत कुल 851 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं, जिनके भविष्य का फैसला दो करोड़ से अधिक मतदाता करेंगे। गुजरात के 14 जिलों की 93 सीटों पर सुबह आठ बजे मतदान की प्रक्रिया शुरू हुई जो शाम पांच बजे तक जारी रहेगी।

पुलिस के मुताबिक, बनासकांठा के धनेरा में छिटपुट हिंसा की खबरें हैं, जहां कुछ असामाजिक तत्वों ने एक निर्वाचन अधिकारी पर हमला किया।

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली, गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, गुजरात कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष भारतसिंह सोलंकी और पाटीदार नेता हार्दिक पटेल सहित कई दिग्गज हस्तियों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। जेटली ने अहमदाबाद में वोट डाला, वहीं नितिन पटेल ने काडी क्षेत्र में वोट डाला। सोलंकी बरसाड में अपने पैतृक गांव मेंदार्दा में वोट डालने पहुंचे, वहीं हार्दिक पटेल ने विरमगाम में वोट डाला।

शहरी क्षेत्रों के कई स्थानों में लोगों को स्वयं ही मतदान को लेकर जागरूकता फैलाते और आवासीय सोसाइटी के सदस्यों को वोट डालने का आग्रह करते देखा गया।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

राज्य में नौ दिसंबर को हुए पहले चरण के मतदान के दौरान की तुलना में इस बार ठंड बढ़ गई है। पहले चरण के तहत 60 फीसदी से अधिक मतदान हुआ था। ऐसा माना जा रहा है कि जैसे-जैसे दिन बढ़ेगा, मतदान करने वालों की संख्या में इजाफा होगा।

आज की चुनावी जंग के प्रमुख उम्मीदवारों में उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल (मेहसाणा), अल्पेश ठाकोर (राधनपुर) और जिग्नेश मेवानी (वडगाम) शामिल हैं। कभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का निर्वाचन क्षेत्र रहे मणिनगर से कांग्रेस ने विदेश से शिक्षा प्राप्त श्वेता ब्रह्मभट्ट को भाजपा के वर्तमान विधायक सुरेश पटेल के खिलाफ मैदान में उतारा है, मोदी ने वर्ष 2014 में यह सीट खाली कर दी थी।

गुजरात विधानसभा चुनाव को मोदी के लिए प्रतिष्ठा के प्रश्न और कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए अग्निपरीक्षा के तौर पर देखा जा रहा है। गुजरात चुनाव के प्रचार के दौरान दोनों दलों ने एक दूसरे पर तीखा हमला बोला। इस चुनाव को 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले की परीक्षा माना जा रहा है।

वर्ष 2012 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 115 सीट जीती थीं और कांग्रेस को 61 सीटों पर जीत मिली थीं। मतगणना 18 दिसंबर को होगी।

पाटीदार समुदाय हैं निर्णायक कारक

राज्य की जनसंख्या का करीब 12 प्रतिशत हिस्सा प्रभावशाली पाटीदार समुदाय है जो चुनाव में एक्स फैक्टर यानी निर्णायक कारक साबित हो सकता है। पाटीदार आरक्षण के लिए आंदोलन करने वाले हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को समर्थन देने और लोगों से इस बार भाजपा को जड़ से उखाड फेंकने की अपील की है। राहुल गांधी प्रधानमंत्री के गृह राज्य में उनसे टक्कर लेने के लिए कांग्रेस की धुरी बन कर उभरे हैं।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top