सुकमा हमले में शहीद जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएंगे गंभीर

सुकमा हमले में शहीद जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएंगे गंभीरआईपीएल मैचों में कोलकाता नाइटराइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर।

नई दिल्ली। आईपीएल मैचों में कोलकाता नाइटराइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर ने कहा है कि उनकी फाउंडेशन छत्तीसगढ़ के सुकमा हमलों में शहीद हुए जवानों के बच्चों की शिक्षा का पूरा खर्च उठाएगी। गौतम ने कहा है कि घटना की सुबह जब उन्होंने अखबार देखा तो ये किसी सदमें से कम नहीं था। एक अंग्रेजी अखबार के कॉलम में उन्होंने लिखा है कि वे सुकमा में शहीद हुए 25 सीआरपीएफ जवानों के बच्चों के पढ़ाई की जिम्मेदारी अपने कंधों पर लेने को तैयार हैं। उल्लेखनीय है कि विगत सोमवार को छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमले में 25 सीआरपीएफ के जवान मारे गए थे।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

गंभीर ने बताया कि उनकी 'गौतम गंभीर फाउंडेशन' इस दिशा में पहले से कार्य कर रही है और वह उन बच्चों का पूरा सहयोग करेगी और इसके लिए फाउंडेशन ने शुरुआत कर दी है। गंभीर ने आगे बताया कि वह इस हमले से पूरी तरह स्तब्ध हैं और अखबार में छपी शोकाकुल बच्चों की तस्वीरों ने उन्हें झकझोर कर रख दिया है।

क्रिकेटर नहीं होते, तो सैनिक बनते गंभीर

सीआरपीएफ जवानों के शहादत को सलाम करते हुए कोलकाता नाइटराइडर्स की टीम ने हाल ही में हुए राइजिंग पुणे सुपरजायंट के खिलाफ मैच में हाथ पर काले बैंड पहने थे। गंभीर ने कहा इस बेहद दुखद घटना के बाद मैच पर ध्यान लगा पाना उनके लिए मुश्किल था। हालांकि, गंभीर ने इस मैच में रॉबिन उथप्पा के साथ बेहतरीन शतकीय साझेदारी की थी। गंभीर ने मैच जीतने पर खुश जताई थी। अब उनकी टीम अंकतालिका में टॉप पर है। गंभीर ने कहा सेना ही देश की असली हीरो है। देश के लिए अपनी जान गंवाने वालों से बढ़कर दूसरा कोई नहीं होता। आपको बता दें कि गंभीर इससे पहले भी कई बार कह चुके हैं कि यदि वो क्रिकेटर नहीं होते, तो भारतीय सेना का हिस्सा बनते।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top