Top

गिरिराज सिंह ने बेगूसराय में किया आत्मसमर्पण, जमानत पर रिहा

गिरिराज सिंह ने बेगूसराय में किया आत्मसमर्पण, जमानत पर रिहा

लखनऊ। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बेगूसराय जिले की अदालत में आत्मसमर्पण किया। गिरिराज सिंह पर "कब्र के लिए तीन फुट जमीन" वाली विवादास्पद टप्पिणी से जुड़ा आदर्श आचार संहिता उल्लंघन का एक मामला दर्ज़ है।

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक, मंगलवार को बिहार राज्य के बेगूसराय की एक अदालत में केन्द्रीय मंत्री ने आत्मसमर्पण किया। इसके बाद उन्हें जमानत दे दी गई है।

ये भी पढ़ें- झारखंड की इस आदिम जाति की समस्याएं कभी नहीं बनतीं चुनावी मुद्दा

गिरिराज सिंह बेगूसराय लोकसभा सीट से भाजपा के प्रत्याशी हैं। गिरिराज ने 24 अप्रैल को जीडी कॉलेज में आयोजित एक चुनावी सभा के दौरान कहा था, "जो वंदेमातरम नहीं कह सकता, जो भारत की मातृभूमि को नमन नहीं कर सकता। गिरिराज के तो बाबा-दादा सिमरिया घाट में गंगा के किनारे मरे। उसी भूमि पर कब्र भी नहीं बनाई। तुम्हें तो तीन हाथ की जगह भी चाहिए। अगर तुम नहीं कर पाओगे, तो देश कभी माफ नहीं करेगा।"

इस सभा में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी मौजूद थे। बेगूसराय के जिला प्रशासन ने मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए 25 अप्रैल को नगर थाने में गिरिराज के विरूद्ध आदर्श आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज कराया है।

ये भी पढ़ें- ग्राउंड रिपोर्ट: 'रायबरेली चुनाव कर चुकी है, सिर्फ मतदान बाकी है'

मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ठाकुर अमन कुमार की अदालत के समक्ष मंगलवार को आत्मसमर्पण करने पर गिरिराज को 5000 रुपये के दो जमानती बॉन्ड भरने पर जमानत दे दी गयी। बेगूसराय लोकसभा सीट पर चौथे चरण में 29 अप्रैल को मतदान हुआ था। यहां गिरिराज का मुकाबला भाकपा उम्मीदवार और जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार तथा राजद प्रत्याशी तनवीर हसन से है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.