देश

गोवा के मुख्यमंत्री देश के पहले सचल खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला का करेंगे उद्घाटन

पणजी (भाषा)। गोवा के मुख्य मंत्री मनोहर पर्रिकर रविवार को भारत के पहले सचल खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला का उद्घाटन करेंगे। राज्य के खाद्य एवं औषधि प्रशासन मंत्री विश्वजीत राणे ने कल यहां संवाददाताओं को बताया, फूड सेफ्टी ऑन व्हील देश की पहली सचल प्रयोगशाला है। मुख्यमंत्री अधिकारिक रुप से रविवार को इसका उद्घाटन करेंगे।

उन्होंने बताया कि यह वाहन खाद्य सामग्रियों की गुणवत्ता की त्वरित जांच करेगा। यह पानी की स्वच्छता के स्तर की भी जांच करेगा, जिसके परिणाम का पता 15 मिनट के भीतर चल सकेगा। मंत्री ने बताया कि इस प्रयोगशाला की लागत 45 लाख रुपये है और इसका वित्त पोषण पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा किया गया है।

ये भी पढ़ें - गन्ने की बुवाई का ये तरीका अपनाइए, उत्पादन दो से तीन गुना ज्यादा पाइए

उन्होंने बताया, ''जरुरत पड़ने पर अब खाद्य नमूने को जांच के लिए पणजी के नजदीक एफडीए प्रयोगशाला नहीं ले जाना पड़ेगा। इससे समय की काफी बचत होगी।'' मंत्री ने कहा, ''अगर खाद्य नमूने सही नहीं पाये गये तो उस पर तुरंत कार्वाई की जा सकती है।'' राणे के मुताबिक, इस वाहन का उपयोग एफडीए द्वारा औचक जांच में भी किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें - सावधान : आलू की फसल पर मोजेक वायरस और झुलसा रोग का ख़तरा, बचाव के लिए करें ये उपाय