गोवा सरकार मछली आयात से रोक हटाएगी, चौकियों पर जांच के बाद आएगी खेप

मछलियों में जहरीले फार्मेलिन का इस्तेमाल किये जाने की बात सामने आई थी, जिसके बाद सरकार ने इसके आयात आयात पर 15 दिन की रोक लागू की थी।

गोवा सरकार मछली आयात से रोक हटाएगी, चौकियों पर जांच के बाद आएगी खेप

पणजी। गोवा सरकार ने गुरुवार को घोषणा की कि वह मछली के आयात पर से रोक हटाएगी। सरकार ने इस आशंका के बाद मछलियों के आयात पर 15 दिन की रोक (5 अगस्त तक के लिए) लागू की थी कि इनमें जहरीले फार्मेलिन का इस्तेमाल किया गया है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्रालय ने मछली व्यापारियों को दूषित मछली के आयात को लेकर चेतावनी दी और दो सीमा जांच चौकियों दक्षिण गोवा में पोलेम व उत्तर गोवा में पतरादेवी में जांच प्रणाली स्थापित करने की घोषणा की। इन जगहों पर मछलियों के राज्य में आने से पहले खाद्य व औषधि प्रशासन (एफडीए) अधिकारी जांच करेंगे।

मिश्रित मछली पालन कर कमा सकते हैं मुनाफा



अवर सचिव (स्वास्थ्य) मारिया डिसूजा द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया कि राज्य की सीमाओं पर खेप की जांच 5 अगस्त से एक महीने के लिए की जाएगी। इसमें कहा गया, "उपभोक्ताओं को सुरक्षित मछली की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के प्रयास के तौर पर एफडीए निदेशालय अगस्त महीने के दौरान राज्य की सीमा पर आने वाले मछलियों से लदे ट्रकों की जांच करेगा। इसमें एफडीए का सहयोग गोवा पुलिस, परिवहन व मत्स्य पालन निदेशालय करेगा।" आदेश में कहा गया, "जांच चौकियों पर एफडीए टीम की नियुक्ति की जाएगी और राज्य के बाहर से लाई जाने वाली मछलियों की गुणवत्ता की जांच होगी।" बीते महीने मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने सभी तरह के सीफूड के आयात पर रोक लगा दी थी। पर्रिकर ने ऐसा एफडीए की मछली की खेप पर छापेमारी में फार्मेलिन मिलने के कथित खुलासे के बाद किया था।

साभार: एजेंसी

वीडियो : जानिए कैसे कम जगह और कम पानी में करें ज्यादा मछली उत्पादन


Share it
Share it
Share it
Top