39 साल की उम्र में निसाबा संभालेंगी 60 हजार करोड़ का कारोबार, ये हैं देश की टॉप-5 अमीर महिलाएं

Mithilesh DubeyMithilesh Dubey   10 May 2017 10:43 AM GMT

39 साल की उम्र में निसाबा संभालेंगी 60 हजार करोड़ का कारोबार, ये हैं देश की टॉप-5 अमीर महिलाएंनिसाबा संभालेंगी 60 हजार करोड़ का करोबार।

लखनऊ। आदि गोदरेज ने बेटी निसाबा को सौंपा गोदरेज कन्ज्यूमर की कमान गोदरेज समूह के प्रमुख आदि गोदरेज ने अपनी बेटी निसाबा को समूह की प्रमुख कंपनी गोदरेज कन्ज्यूमर प्रॉडक्ट्स लिमिटेड (जीसीपीएल) की कमान सौंपने का ऐलान किया है। उनके 75 वर्षीय पिता आदि गोदरेज कंपनी के मानद चेयरमैन बने रहेंगे। उन्होंने 17 वर्ष कंपनी के शीर्ष पद की जिम्मेदारी संभाली है और अब वह यह अपनी बेटी को सौंप रहे हैं। कंपनी ने एक बयान में बताया कि आदि गोदरेज कंपनी के निदेशक मंडल में बने रहेंगे और विवेक गंभीर प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी के पद पर काम करना जारी रखेंगे।

एक दशक में निभाई महत्वपूर्ण भूमिका

बीते एक दशक में निसाबा ने जीसीपीएल की रणनीति और बदलावों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। 2011 से वह जीसीपीएल के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में हैं। कंपनी के प्रोजेक्ट लीपफ्रॉग के पीछे उन्हीं का दिमाग था। वर्ष 2007 में शुरू हुए इस प्रोजेक्ट के तहत जीसीपीएल ने इनोवेशन और कंसोलिडेशन के जरिये घरेलू कारोबार को रफ्तार दी। साथ ही वह भारत के बाहर उभरते बाजारों में निवेश करके ग्लोबल स्तर पर पहुंची। इस अवधि के दौरान जीसीपीएल का बाजार पूंजीकरण 20 गुना बढ़कर तीन हजार करोड़ से बढ़कर 60 हजार करोड़ रुपये हो गया। वर्तमान में कंपनी के राजस्व का लगभग आधा विदेशी बाजारों से आता है।

निसाबा का करियर

पिछले 10 सालों में कंपनी में निसाबा ने जीसीपीएल की स्ट्रैटजी और ट्रांसफॉर्मेशन में एक अहम भूमिका निभाई है। निसाबा साल 2011 से जीसीपीएल बोर्ड में बतौर डायरेक्टर हैं। गोदरेज ग्रुप के कारोबार को रफ्तार देने वाले लीपफ्रॉग प्रोजेक्ट निसाबा की ही मेहनत थी।

निसाबा अलावा भी भारत की कई बड़ी भारतीय कंपनियों की बागडोर महिलाओं के हाथ में है। ये महिलाएं न सिर्फ अपनी कंपनी को आगे बढ़ा रही हैं बल्कि उन्हें एक नए मुकाम पर पहुंचा रही हैं। आप भी देखिए इस लिस्ट में कौन-कौन है-

निसाबा।
सावित्री जिंदल।
स्मिता कृष्णा।
किरण मजूमदार।
लीना तिवारी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top