देश

फिल्म देखना होगा सस्ता, इंसुलिन-स्कूल बैग समेत 66 चीजों पर जीएसटी घटा

नई दिल्ली। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) पर केंद्र तथा राज्यों के अधिकार प्राप्त मंच ने 11 जून को 66 तरह के सामानों और मदों पर कर की दरों में कमी की है। इनमें अचार, मुरब्बा और मस्टर्ड सॉस जैसे खाने के उत्पाद तथा 100 रुपये मूल्य तक के सिनेमा टिकट शामिल हैं।

हाइब्रिड कारों पर जीएसटी दर की समीक्षा के मुद्दे पर पूर्व में जारी विस्तृत पत्र पर राज्यों की टिप्पणी पर विचार करने के बाद निर्णय किया जाएगा। जीएसटी परिषद की 16वीं बैठक के बाद वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा, ‘‘जीएसटी परिषद को 133 जिंसों के लिये अनुरोध मिला था। इसमें से 66 जिंसों पर कर की दरें कम कर दी गयी हैं।’’

जीएसटी परिषद के निर्णय के अनुसार सौ रुपये या उससे कम के सिनेमा टिकट पर 28 प्रतिशत के बजाए 18 प्रतिशत जीएसटी लगेगा। इससे ऊंचे मूल्य की टिकट पर कर की दर पहले के निर्णय के अनुसार 28 प्रतिशत बनी रहेगी। अचार, मस्टर्ड सॉस तथा मुरब्बा जैसे खाद्य वस्तुओं पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगेगा जबकि पहले इस पर 18 प्रतिशत कर लगाने का प्रस्ताव था। साथ ही काजू पर जीएसटी को 12 प्रतिशत से कम कर 5 प्रतिशत कर दिया गया है।

यह भी निर्णय किया गया है कि 75 लाख रुपये तक के कारोबार वाले व्यापारी, विनिर्माता और रेस्तरां मालिक एक कंपोजीशन (एकमुश्त) योजना का विकल्प चुन सकते हैं और क्रमश: एक प्रतिशत, दो प्रतिशत तथा पांच प्रतिशत की दर से कर का भुगतान कर सकते हैं। परिषद ने बच्चों की चित्रकला की किताबों पर शून्य जीएसटी लगाने का प्रस्ताव किया जबकि पूर्व में इसपर 12 प्रतिशत की दर से शुल्क लगाने की बात कही गयी थी। कंप्यूटर प्रिंटर पर 28 प्रतिशत के बजाए 18 प्रतिशत जीएसटी लगाने का प्रस्ताव किया गया।

इंसुलिन और अगरबत्ती पर जीएसटी कम कर 5 प्रतिशत कर दिया गया है जबकि स्कूल बैग पर 18 प्रतिशत शुल्क लगेगा। काजल पर 28 प्रतिशत के बजाए 18 प्रतिशत कर लगाने का प्रस्ताव किया गया है। परिषद की अगली बैठक 18 जून को होगी। उसमें लॉटरी कर तथा ई-वे बिल पर विचार किया जाएगा।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।