राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर जीपीडीपी पुरस्कार का शुभारंभ करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर जीपीडीपी पुरस्कार का शुभारंभ करेंगे पीएम नरेंद्र मोदीपंचायती राज दिवस 24 अप्रैल

जबलपुर (मध्य प्रदेश)। राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के मौके पर 24 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ग्राम पंचायत विकास योजना (जीपीडीपी) पुरस्कार की शुरुआत करेंगे। देश भर में पंचायत स्तर पर बेहतरीन कार्य करने वाले तीन प्रधानों या पंचायतों को ये सम्मान दिया जाएगा।

राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस का समारोह इस बार मध्य प्रदेश के जबलपुर में रहा है। समारोह में देशभर के प्रधान और पंचायत प्रतिनिधि शामिल हुए हैं। पिछले वर्ष ये समारोह उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मनाया गया था। भारत सरकार के पंचायती राज मंत्रालय द्वारा 73वां संविधान संसोधन अधिनियम 1992 के उपलक्ष्य में ये समारोह हर साल 24 अप्रैल को आयोजित किया जाता है। 14वां वित्त लागू कर चुकी नरेंद्र मोदी सरकार में ये समारोह और भव्य होने लगे हैं।

भारत सरकार ने पुनर्गठित राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान को मंजूरी दे दी है और इसका शुभारंभ स्वयं माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के मौके पर करेंगे। मुख्य कार्यक्रम 24 अप्रैल 2018 को रामनगर के मंडला, मध्य प्रदेश में आयोजित किया जाएगा। प्रधानमंत्री देश के सभी ग्राम सभाओं को सीधे संबोधित करेंगे और पंचायतों को विभिन्न राष्ट्रीय पंचायत पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे।

ये भी पढ़ें- पंचायती राज दिवस : यूपी में ग्राम पंचायत का सालाना बजट 20-40 लाख , फिर गांव बदहाल क्यों ?

ये भी पढ़ें- ‘प्रधान भी सांसद-विधायक की तरह जनप्रतिनिधि , 3500 रुपए के मासिक भत्ते को कई गुना बढ़ाया जाए’

ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने ट्वीट कर बताया, “पंचायत प्रतिनिधियों के सम्मेलन में प्रधानमंत्री पंचायत प्रतिनिधियों को राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्रदान करेंगे और राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान योजना का शुभारंभ भी करेंगे। प्रधानमंत्री के सम्बोधन का देश की लगभग ढाई लाख पंचायतों में सीधा प्रसारण किया जायेगा।”

तोमर ने बताया कि दो दिवसीय समारोह के पहले दिन जबलपुर में 'पंचायत की चौपाल में चर्चा' कार्यशाला का आयोजन किया गया। तोमर ने कहा कि इस वर्ष ग्राम पंचायत विकास योजना (जीपीडीपी) पुरस्‍कार की शुरुआत की गई है। यह पुरस्‍कार देश भर की सर्वश्रेष्‍ठ योजना बनाने वाली तीन ग्राम पंचायतों को दिया जाएगा।

यपूी के 30 प्रधान होंगे सम्मानित

यूपी के सिद्धार्थनगर जिले में हसुडी गांव के प्रधान दिलीप त्रिपाठी बलिया में रसतर की प्रधान स्मृति सिंह समेत प्रदेश के 30 प्रधानों को उनके गाँव के विकास में सराहनीय कार्य के लिए सम्मानित किया जाएगा। यूपी के प्रधानों का एक प्रतिनिधि मंडल जबलपुर पहुंच चुके हैं।

ये भी पढ़ें- एक गांव ऐसा भी : मध्य प्रदेश के इस गाँव में कभी नहीं हुए चुनाव, शहरों जैसी हैं यहां सुविधाएं

Share it
Share it
Share it
Top