गुजरात राज्यसभा की तीन सीटों पर चुनाव आज, अहमद पटेल की राह मुश्किल

गुजरात राज्यसभा की तीन सीटों पर चुनाव आज, अहमद पटेल की राह मुश्किलकांग्रेस नेता अहमद पटेल और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह

अहमदाबाद। गुजरात में कई सप्ताह से जारी राजनीतिक जंग का फैसला आज (मंगलवार) होगा। राज्यसभा की तीन सीटों के लिए होने वाले चुनाव में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का जीतना तय है। इस चुनाव के जरिये अमित शाह पहली बार संसद पहुंच रहे हैं। हालांकि, तीसरी सीट के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल मुश्किल में फंसे नजर आ रहे हैं।

भाजपा ने पटेल के खिलाफ कांग्रेस के ही बागी नेता बलवंत सिंह राजपूत को उतारकर चुनाव को रोमांचक बना दिया है। राजपूत विधानसभा में कांग्रेस के मुख्य सचेतक थे। वे कांग्रेस छोड़ चुके वरिष्ठ नेता शंकर सिंह वाघेला के रिश्तेदार हैं।

गुजरात में लगभग दो दशक बाद राज्यसभा चुनाव के लिए मतदान हो रहा है। चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस के छह विधायकों ने पार्टी और विधानसभा से त्यागपत्र देकर भाजपा का दामन थाम लिया। इससे कांग्रेस का रास्ता दुश्वार हो गया है। पार्टी को अपने 44 विधायकों को अपने पाले में बनाए रखने के लिए बेंगलुरु भेजना पड़ गया।बेंगलुरु के ईगलटन रिजॉर्ट में करीब 10 दिन बिताकर लौटे विधायक आणंद के निजानंद रिजॉर्ट में भेज दिए गए हैं। कांग्रेस अपने विधायकों को अकेले छोड़ने से डर रही है कि कहीं भाजपा उनको अपने पाले में नहीं कर ले। हालांकि, अहमद पटेल को अब भी भरोसा है कि वाघेला अपना वादा निभाएंगे और उन्हें ही मत देंगे। उन्होंने भाजपा पर कांग्रेस विधायकों को धमकाने का आरोप लगाया है।

कौन जाएगा किसके साथ

राज्यसभा चुनाव में अहमद पटेल को जीत के लिए 45 वोटों की जरूरत होगी। कांग्रेस के पास 44 विधायक हैं। उन्हें जदयू के एक विधायक के समर्थन का भरोसा है। हालांकि, कांग्रेस को अपनी पार्टी में टूट का डर है। कहा जा रहा है कि कुछ नाराज विधायक नोटा का बटन दबा सकते हैं। ऐसा होता है, तो पटेल के लिए जीतना मुश्किल होगा। राकांपा की स्थिति अब तक स्पष्ट नहीं है। विधायक कांधल जडेजा ने कहा है कि पार्टी ने भाजपा उम्मीदवार बलवंत राजपूत को वोट देने का व्हिप जारी किया है। दूसरी तरफ, राकांपा सांसद सुप्रिया सुले ने इससे अनभिज्ञता जाहिर की है। उन्होंने सोमवार को कहा कि उनके दोनों विधायक अहमद पटेल को वोट देंगे। निर्दलीय विधायक नलिन कोटडिया के भाजपा के खेमे में आ जाने से राजपूत की स्थिति लगातार मजबूत हो रही है। कोटडिया भाजपा की डिनर पार्टी में भी शामिल हुए।

चुनाव का गणित

गुजरात विधानसभा सदस्य संख्या 182, कांग्रेस के 6 सदस्यों के इस्तीफे के बाद 176 विधायकों की संख्या- 121 भाजपा, 51 कांग्रेस, 2 राकांपा, 1 जदयू, 1 निर्दलीय। चुनाव में जीत के लिए चाहिए 45 मत।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top