Top

हरियाणा के बजट में शिक्षा पर फोकस, खुलेंगे 4 हजार प्‍ले स्‍कूल, ये भी खास

हरियाणा के बजट में शिक्षा पर फोकस, खुलेंगे 4 हजार प्‍ले स्‍कूल, ये भी खास

हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शुक्रवार को 2020-21 का बजट पेश किया। इस बार का बजट 1.42 लाख करोड़ का है। बजट में सबसे खास बात है कि कुल बजट का 15 फीसद शिक्षा पर खर्च किया जाएगा। शिक्षा का बजट करीब 19 हजार करोड़ रुपए रखा गया है।

हर‍ियाणा सरकार इस बार के बजट में शिक्षा पर खास ध्‍यान दे रही है। इस बात को ऐसे समझा जा सकता है कि शिक्षा का बजट पिछले वर्ष की तुलना में 28.60 फीसदी ज्‍यादा है। जानिए इस बजट में शिक्षा क्षेत्र को क्‍या मिला

- हरियाणा में 18 नए राजकीय महाविद्यालय खुलेंगे। हर विद्यालय के गेट तक पक्का रास्ता बनाया जाएगा।

- विद्यालयों में विज्ञान विषय को बढ़ावा दिया जाएगा।

- मिड-डे मील में एक दिन लड्डू, बेसन व पिन्नी और प्रतिदिन दूध मिलेगा। सभी स्कूलों में आरओ लगाए जाएंगे।

- स्नातक स्तर तक की छात्राओं से कोई भी शिक्षण शुल्क नहीं लिया जाएगा। वहीं स्नातकोत्तर स्तर तक सभी संकायों में 1 लाख, 80 हजार रुपये तक की वार्षिक आय वाले गरीब परिवारों की छात्राओं से प्रदेश के किसी भी महाविद्यालय और विश्वविद्यालय में शिक्षण शुल्क नहीं लिया जाएगा।

- कक्षा आठ के लिए बोर्ड की परीक्षा शुरू होगी।

- सरकार चार हजार प्ले वे स्कूल खोलेगी।

- उच्च शिक्षा के लिए 2936 करोड़ रुपये का प्रावधान।

- सभी महाविद्यालयों में 24 घंटे निगरानी करने के लिए 2 हजार CCTV लगाने के लिए बजट में प्रावधान किया है।

- छात्रावासों में अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए 20 प्रतिशत सीटें आरक्षित की जाएंगी।

- महाविद्यालयों में एक नई महत्वाकांक्षी योजना 'पासपोर्ट सहायता' शुरू की गई है। इसके तहत अंतिम वर्ष के सभी विद्यार्थियों के पासपोर्ट निःशुल्क बनाए जाएंगे। यह योजना इसलिए लाई गई है ताकी छात्र विदेशों में भी रोजगार के अवसर तलाश कर सकें।



Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.