अव्यवस्थाओं और बेवजह के दबाव से तंग आकर प्रभारी पद से इस्तीफा देने वाले 11 सीएचसी और 5 पीएचसी प्रभारी काम पर लौटे

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में बुधवार को प्रभारियों ने सामूहिक रूप से डिप्टी सीएमओ तनमय कक्कड़ को सौंपा था इस्तीफा। बुधवार देर रात प्रशासनिक अधिकारियों व स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों के साथ बातचीत के बाद वापस लिया त्यागपत्र।

Sumit YadavSumit Yadav   13 May 2021 5:56 AM GMT

अव्यवस्थाओं और बेवजह के दबाव से तंग आकर प्रभारी पद से इस्तीफा देने वाले 11 सीएचसी और 5 पीएचसी प्रभारी काम पर लौटे

उन्नाव के डिप्टी सीएमओ तन्मय कक्कड़ को इस्तीफा देते सीएचसी और पीएचसी के प्रभारी।

उन्नाव, उत्तर प्रदेश। उन्नाव में इस्तीफा देने वाले 11 सीएचसी और 5 पीएचसी प्रभारी गुरुवार (13 मई) को काम पर लौट आए हैं। इससे पहले कल बुधवार 12 मई को उन्होंने व्यवस्थाओं और अधिकारियों से तंग आकर सामूहिक रूप से प्रभारी पद से इस्तीफा दे दिया था। इस दौरान प्रभारियों ने CMO ऑफिस पहुंच कर सामूहिक रूप से अपने प्रभारी पद से इस्तीफा देने का पत्र डिप्टी सीएमओ तनमय कक्कड़ को सौंपा था।

बुधवार को डिप्टी सीएमओ को इस्तीफा देते हुए प्रभारियों ने कई गंभीर आरोप लगाए थे। पत्र में प्रभारियों ने लगातार काम करने के दौरान प्रशासनिक अधिकारियों के दंडात्मक आदेश एवं अमर्यादित व्यवहार के अलावा स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों पर असहयोगात्मक रवैया अपनाने का आरोप लगाया। साथ ही बिना वजह दबाव बनाने का भी गंभीर आरोप लगाया । वहीं सीएचसी-पीएचसी प्रभारियों के इस्तीफे देने से हड़कंप मच गया ।

इस बीच स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी सीएचसी-पीएचसी प्रभारियों के मनाने में लगे रहे । जिसके बाद बुधवार देर रात डीएम उन्नाव ने जिले के इन्फॉर्मेशन ग्रुप पर मैसेज डाला, जिसमें सीएचसी-पीएचसी प्रभारियों द्वारा सीएचसी प्रभारी पद से दिए गए त्यागपत्र वापस लिए जाने और काम पर लौटने की बात लिखी गई। वहीं इस संबंध में सीएमओ डॉ. आशुतोष कुमार ने भी सीएचसी-पीएचसी प्रभारियों से लगातार बातचीत जारी रखी। साथ ही सभी प्रभारियों को उनकी समस्याओं के समाधान का आश्वासन दिया गया, जिसके बाद देर रात उन्होंने अपना इस्तीफा वापस ले लिया और गुरुवार (13 मई) से काम पर लौट आए।

इस संबंध में सीएमओ डॉ. आशुतोष कुमार ने गाँव कनेक्शन को बताया, " बुधवार (12 मई) देर रात डॉक्टरों से बात करके उनकी समस्याओं के निराकरण का आश्वासन दिया गया है, जिस पर सभी डॉक्टर अपना त्यागपत्र वापस लेते हुए काम पर लौट आए हैं। आज (13 मई) सभी डॉक्टर काम कर रहे हैं।"

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.