Top

उत्‍तर प्रदेश और दिल्‍ली में फिर से होगी 'राहत की बारिश', गुजरात के वडोदरा में बाढ़ की स्थिति

उत्तर प्रदेश में पिछले कई दिनों से खामोश मानसून के जल्द ही सक्रिय होने का अनुमान है और एक—दो दिन में सूबे के अनेक इलाकों में बारिश होनी की सम्भावना है। वहीं दिल्‍ली में भी भारतीय मौसम वि‍ज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बुधवार को आसमान में बादल छाए रहने के साथ-साथ हल्की बारिश होने का अनुमान व्यक्त किया है। इसके अलावा गुजरात के वडोदरा में बारिश ने 35 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है।

आंचलिक मौसम केन्द्र की रिपोर्ट के मुताबिक आगामी दो अगस्त से यूपी में मानसून फिर जोर पकड़ेगा और अगले एक—दो दिन राज्य के ज्यादातर इलाकों में बारिश होने की प्रबल सम्भावना है। पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के लगभग सभी इलाकों में मौसम आमतौर पर सूखा रहा। इस अवधि में झांसी और ललितपुर में एक—एक सेंटीमीटर वर्षा हुई। पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के आगरा मण्डल में दिन के तापमान में खासी बढ़ोत्तरी हुई। बाकी स्थानों पर यह सामान्य रहा।

वहीं दिल्‍ली शहर का अधिकतम तापमान लगभग 34 डि‍ग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। न्यूनतम तापमान 27 डि‍ग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आईएमडी ने बताया कि शहर के कुछ हि‍स्सों में हल्की बारिश दर्ज की गई। वहीं मंगलवार को शहर में अधिकतम तापमान सामान्य से एक डि‍ग्री सेल्सियस अधिक 35.1 डि‍ग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 27.4 डि‍ग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आर्द्रता का स्तर 63 और 88 प्रतिशत के बीच दर्ज किया गया।


इसे भी पढ़ें- नए जमाने का किसान, सोशल मीडिया के जरिए अपने उत्पाद बेचता है 9वीं पास ये किसान

इसके अलावा गुजरात के वड़ोदरा में बुधवार को सिर्फ 12 घंटों में 442 मिलीमीटर बारिश हुई। जिससे आम जनजीवन तबाह हो गया है। विमान और रेल सेवा भी प्रभावित हुई है इसके अलावा जगह-जगह जलजमाव की समस्या से आम लोगों को आवाजाही में भारी दिक्कत हो रही है। वडोदरा में बारिश ने 35 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है।

यहां रनवे पर पानी भरने के बाद एयरपोर्ट बंद होने की वजह से दो घरेलू उड़ानें रद्द करनी पड़ीं। रेल ट्रैफिक ठप होने के कारण कई ट्रेनें भी रद्द करनी पड़ीं। प्रशासन ने गुरुवार को सभी स्कूल-कॉलेज बंद रखने के आदेश दिया है।

बुधवार को मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने इस संबंध में एक उच्च स्तरीय बैठक की। मुख्यमंत्री रूपाणी ने 2 आईएएस अधिकारियों को स्थानीय प्रशासन के लगातार संपर्क में रहने और उन्हें निर्देशित करने का आदेश दिया। मुख्यमंत्री ने निचले इलाकों में रहने वाले लोगों से सुरक्षित स्थान की ओर जाने का आग्रह किया।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.