देश की 100 महिलाओं को 30 अप्रैल को किया जाएगा सम्मानित, युवा महिला सरपंच का भी नाम

देश की 100 महिलाओं को 30 अप्रैल को किया जाएगा सम्मानित, युवा महिला सरपंच का भी नामहिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के थरजूण ग्राम पंचायत की ग्राम प्रधान जबना चौहान।

देश की 100 प्रभावशाली महिलाओं को 30 अप्रैल को नई दिल्ली में महिला सशक्तिकरण में उनके कार्यों को देखते हुए सम्मानित किया जाएगा। इसमें हिमाचल प्रदेश में देश की सबसे युवा ग्राम प्रधान जबना चौहान ने एक और बड़ा मुकाम हासिल किया है। देश की 100 सबसे प्रभावशाली महिलाओं में जबना का चयन किया गया है।

महिला सशक्तिकरण की दिशा में काम करने वाली संस्था वीमेन इनोवेटर की ओर से आयोजित होने वाली इस प्रतियोगिता में देश की लाखों महिलाओं ने आवेदन किया था, मगर इसमें हिमाचल के थरजूण ग्राम पंचायत के गांव की ग्राम प्रधान जबना चौहान का चयन किया गया। अब 30 अप्रैल को नई दिल्ली में होने जा रहे इस कार्यक्रम में 25 वर्षीय इस युवा प्रधान को सम्मानित किया जाएगा।

इस कार्यक्रम में देश की 100 प्रभावशाली महिलाएं तो आएंगी ही, साथ ही कार्यक्रम में बॉलीवुड समेत देश की कई नामी गिरामी हस्तियां भी शामिल होंगी।

22 साल की उम्र में बनी थीं प्रधान

हिमाचल की जबना चौहान मंडी जिले से हैं और सिराज क्षेत्र की थरजूण पंचायत से युवा प्रधान हैं। वह 22 साल की उम्र में ग्राम प्रधान बन गई थीं। जबना ने अपनी पंचायत को स्वच्छता की दिशा में मंडी जिले में पहला स्थान प्राप्त किया है। सिर्फ इतना ही नहीं, वह ऐसी ग्राम प्रधान भी हैं, जिन्होंने अपनी पंचायत में पूरी तरह से शराबबंदी कराई है। उनकी पंचायत में शराब पीने पर भारी जुर्माने का प्रावधान है।

सर्वश्रेष्ठ ग्राम प्रधान चुनी गईं

हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने जबना को सर्वश्रेष्ठ ग्राम प्रधान के अवॉर्ड से भी सम्मानित किया है। इतना ही नहीं, पिछले वर्ष गुजरात के गांधी नगर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर जबना चौहान को सम्मानित किया।

अक्षय कुमार भी हुए प्रभावित

इसके अलावा अभिनेता अक्षय कुमार ने जबना चौहान की उपलब्धियों से प्रभावित होकर उन्हें अपनी फिल्म टॉयलेट-एक प्रेम कथा के प्रमोशन कार्यक्रम के दौरान विशेष रूप से आमंत्रित किया था। इसके अलावा इस युवा ग्राम प्रधान जबना चौहान कई अवॉर्ड अपने नाम कर चुकी हैं।

ये भी पढ़ें- देश की सबसे कम उम्र की महिला प्रधान हैं ये, अक्षय भी कर चुके हैं मंच पर बुलाकर तारीफ

इस ग्राम प्रधान ने आठ महीने में अपनी ग्राम पंचायत को बनाया नशामुक्त

देश की सबसे कम उम्र की युवा महिला प्रधान, जिसने बदल दी अपने गाँव की सूरत

Share it
Top