मानवाधिकार दिवस : ह्यूमन राइट्स की फील्ड में बनाए करियर, ये है कोर्स

मानवाधिकार दिवस : ह्यूमन राइट्स की फील्ड में बनाए करियर, ये है कोर्सप्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ। आज अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस यानी यूनिवर्सल ह्यूमन राइट्स डे है। संयुक्त राष्ट्र संघ की महासभा ने 10 दिसंबर 1948 को सार्वभौमिक मानवाधि‍कार घोषणापत्र को आधि‍कारिक मान्यता प्रदान की थी और 4 दिसंबर 1950 को आधि‍कारिक तौर पर मानवाधिकार दिवस मनाने का फैसला किया गया।

मानवाधि‍कार दिवस मनाने का उद्देश्य पूरी दुनिया में लोगों को अपने अधि‍कारों के प्रति जागरूक करना है। मानवता के खिलाफ हो रहे अपराध को रोकने और उसके खिलाफ संघर्ष को नई आवाज देने में इस दिवस की महत्वपूर्ण भूमिका है।

भारत में 28 सितंबर 1993 से मानव अधिकार कानून अमल में आया। 12 अक्‍टूबर, 1993 में सरकार ने राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग का गठन किया। मानवाधिकार के क्षेत्र में भारत के राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग और संयुक्त राष्ट्र संघ ने कई कानून बना रखें हैं। इनका उपयोग अधिकारों की रक्षा के लिए किया जाता है। आपको बता दें, इन संगठनों में काम करने वाले को मानवाधिकार कार्यकर्ता कहते है।

ये भी पढ़ें- विश्व मानवाधिकार दिवस- जानें कैसे लड़ें अपने हक़ की लड़ाई ?

आइए जानते है मानवाधिकार कार्यकर्ता बनने के लिए किन चीजों की जरूरत होती है...

योग्यता

ऐसी कई यूनिवर्सिटी है जो ह्यूमन राइट्स के कोर्स कराती है। इसके साथ ही सरकारी संस्थान, प्राइवेट संस्थान हैं जो सर्टिफिकेट, डिप्लोमा और डिग्री कोर्सेज ऑफर करते हैं लेकिन किसी भी स्ट्रीम से 12वीं पास व्यक्ति होना चाहिए। आइए जानते है इस फील्ड में कौन-से महत्वपूर्ण कोर्स है:-

कोर्सेज

  • 1) डिप्लोमा इन ह्यूमन राइट्स
  • 2) पीजी डिप्लोमा इन ह्यूमन राइट्स
  • 3) मास्टर्स इन ह्यूमन राइट्स
  • 4) बैचलर डिग्री इन ह्यूमन राइट्स

ये भी पढ़ें- विश्व मानवाधिकार दिवस: बारीकी से जानें अपने अधिकार

यूनिवर्सिटीज

  • 1) भारतीय मानवाधिकार संस्थान, नई दिल्ली
  • 2) इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू)
  • 3) जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली
  • 4) बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, वाराणसी
  • 5) मुंबई यूनिवर्सिटी, मुंबई

नौकरी के लिए बेहतर विकल्प

यह फील्ड नौकरी के लिए काफी बेहतर है क्योंकि आपको यहाँ राष्ट्रीय और अन्तराष्ट्रीय संगठनों में काम करने का मौका मिलता है।

इन जगहों पर मिलता है काम करने का अवसर

  • नेशनल ह्यूमन राइट्स कमीशन
  • स्टेट ह्यूमन राइट्स कमीशन
  • नेशनल एंड स्टेट कमीशन ऑन चिल्ड्रन
  • लेबर वेलफेयर
  • यूनाइटेड नेशंस डेवलपमेंट प्रोग्राम
  • यूनाइटेड नेशंस ह्यूमन राइट्स कमीशन
  • एमेनेस्टी इंटरनेशनल
  • एशियन सेंटर फॉर ह्यूमन राइट्स डॉक्यूमेंटेशन सेंटर
  • रेड क्रॉस

यह भी पढ़ें : जमीन बेच दी, बैंक से लोन लिया, लेकिन दर्जी पिता ने बेटी को डॉक्टर बनाकर ही दम लिया

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top