Top

ICMR के सीरो सर्वे में दावा- मई तक 64 लाख लोग हो चुके थे कोविड-19 से संक्रमित, गांवों में 69.9% लोग हुए संक्रमित

ICMR की रिपोर्ट चौंकाने वाली है। सर्वे की रिपोर्ट तब की है जब देश में संपूर्ण लॉकडाउन था। आईसीएमआर ने यह भी कहा है कि जहां मामले नहीं मिले हैं वहां जांच नहीं की गई। जांच की संख्या बढ़ानी होगी।

Coronavirus,covid 19, Covid testing, ICMR, Sero Survey, ICMR, Indian Journal of Medical Research, Coronavirusसर्वे रिपोर्ट के मुताबिक ग्रामीण भारत में फैला सबसे ज्यादा संक्रमण। (फोटो DNA India से साभार)

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ICMR) ने कुछ दिन पहले कराये गये सेरोलॉजिकल सर्वे के नीतेजों का ऐलान कर दिया है। सर्वे रिपोर्ट में मई की शुरुआत तक 64 लाख लोगों को कोरोना वायरस के संपर्क में आने की बात कही गई है। सर्वे के मुताबिक गांवों में कोरोनो वायरस के संक्रमण की दर 69.4% थी, जबकि शहरी झुग्गियों में यह दर 15.9 प्रतिशत और शहरी गैर-मलिन बस्तियों में 14.6 प्रतिशत दर्ज की गई।

सेरोलॉजिकल सर्वे (सीरो सर्वे) देश के 21 राज्यों के 70 जिलों के 700 गांवों और वार्डों में 11 मई से 4 जून के बीच किया गया जिसमें 181 शहरी क्षेत्र (25.9%) शामिल थे। सर्वे का सैंपल साइज 28,000 था। सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक 18-45 वर्ष आयु वर्ग में सीरो पॉजिटिविटी दर सबसे ज्यादा 43.3% थी, इसके बाद 46-60 वर्ष आयु वर्ग में 39.5% और 60 वर्ष से ऊपर की आयु वर्ग के लोगों में पॉजिटिविटी दर सबसे कम 17.2% पाई गई।

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार सर्वे के नतीजे बताते हैं कि मई की शुरूआत की देश के 64,68,388 लोग कोरोना के संपर्क में आ चुके थे। तब देश में लॉकडाउन था और बड़ी संख्या में लोग पलायन कर चुके थे।

सीरो सर्वे में 18 वर्ष के ऊपर के लोगों को शामिल किया गया था। भारत की लगभग 65 फीसदी आबादी गांवों में रहती है। पिछले दिनों हाऊ इंडिया लिव्स वेबसाइट की एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि देश के 714 जिलों में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आये हैं।

यह भी पढ़ें- भारत के कुछ क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर, छोटे शहर और ग्रामीण इलाकों में खतरा और बढ़ा

कोरोनो संक्रमण के मामले में भारत दुनिया में अब बस अमेरिका से पीछे है। देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 96,551 नये मामले सामने आये और 1,209 मौतें हुईं। इसे साथ ही देश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 45,62,415 हो गई है। इसमें कुल सक्रिय मामलों की संख्या 9,43,480 हो गई है जबकि 35,42,664 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं।

इससे पहले गुरुवार को संक्रमण के कारण एक दिन में सर्वाधिक 1169 मौत दर्ज हुई थी। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक महज 26 दिन में वायरस के 25,000 मौत हुई हैं। मतलब 26 दिनों में हर दिन औसतन 1000 मौत कोरोना वायरस से हुई है।

पिछले दिनों भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि देश के कुछ हिस्सों में कोरोना की दूसरी लहर आ चुकी है और खतरा छोटे शहर और ग्रामीण इलाकों में ज्यादा है।

क्या होता है सीरो सर्वे?

सीरोलॉजिकल टेस्ट या सीरो सर्वे एक तरह का ब्लड टेस्ट है जो व्यक्ति के खून में मौजूद एंटीबॉडी की पहचान करता है। ब्लड सैंपल से पता लगाया जाता है कि कितन लोगों के शरीर में कोरोना के लिए एंटीबॉडी बनी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 11 मई को सेरो सर्वे कराने का निर्देश दिया था।

Updating...

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.