उत्तर कोरिया के खिलाफ कार्रवाई में चीन ने मदद नहीं की तो अच्छा नहीं होगा : ट्रंप

उत्तर कोरिया के खिलाफ कार्रवाई में चीन ने मदद नहीं की तो अच्छा नहीं होगा : ट्रंपडोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति।

पोटोमैक फॉल्स (अमेरिका)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि अगर चीन उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम के खिलाफ कड़ा कदम नहीं उठाता है तब अमेरिका अकेले ही कार्रवाई करने के तैयार है।

साउथ फ्लोरिडा में अपने मार-ए-लेगो एस्टेट में चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग की मेजबानी करने के कुछ ही दिन पहले ट्रंप ने फाइनेंशियल टाइम्स के साथ एक साक्षात्कार में यह टिप्पणी की है। बृहस्पतिवार और शुक्रवार को होने वाली बैठक के दौरान शी और ट्रंप के बीच उत्तर कोरिया, व्यापार और दक्षिण चीन सागर में क्षेत्रीय विवाद समेत कई सारे मुद्दों पर चर्चा होने की संभावना है। ट्रंप ने अखबार से कहा, ‘‘हां, हम उत्तर कोरिया के बारे में बात करेंगे।''

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उन्होंने कहा, ‘‘उत्तर कोरिया पर चीन का बहुत प्रभाव है और या तो चीन उत्तर कोरिया को लेकर हमारी मदद करने का फैसला करेगा या नहीं करेगा। अगर चीन हमारी मदद करने का फैसला करता है तो यह उसके लिए बहुत अच्छा होगा और अगर वह ऐसा नहीं करता है तो यह किसी के लिए अच्छा नहीं होगा।''

ये भी पढ़ें-हिंसा भडकाने के मामले में ट्रंप को मुकदमे से छूट नहीं: संघीय न्यायाधीश

ट्रंप ने कहा कि चीन के लिए अमेरिका के साथ काम करने की वजह व्यापार है। उन्होंने कहा कि चीन की मदद के बिना अमेरिका, उत्तर कोरिया में हालात से निपट सकता है। जब उनसे पूछा गया कि वह उत्तर कोरिया से कैसे निपटेंगे तब ट्रंप ने कहा, ‘‘मैं यह आपको बताने नहीं जा रहा हूं आप जानते हैं, मैं अतीत का अमेरिका नहीं हूं जहां हम आपको यह बताएंगे कि हम पश्चिम एशिया में कहां पर क्या करने जा रहे हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top