भारत-चीन के बीच बढ़ा तनाव, दोनों देशों ने तैनात किए तीन हज़ार सैनिक

भारत-चीन के बीच बढ़ा तनाव, दोनों देशों ने तैनात किए तीन हज़ार सैनिकप्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ।भारत-चीन के बीच सिक्किम में सीमा विवाद बढ़ता जा रहा है। दोनों देशों ने इस इलाके में सुरक्षा बंदोबस्त बढ़ा दिया है। चीन और भारत दोनों ने इस इलाके में तीन-तीन हजार सैनिक तैनात कर रखे हैं।

डोका ला जनरल और ट्राइ जंक्शन पर सैनिकों की तैनाती को गंभीर माना जा रहा है। भारत ने जहां साफ किया है कि वो ट्राइ जंक्शन तक चीन को सड़क नहीं बनाने देगा वहीं भूटान ने भी डोका ला में निर्माण पर आपत्ति जता दी है।

यह विवाद तब शुरू हुआ जब चीनी सैनिकों ने भारतीय इलाके में बने दो अस्थायी बंकरों को नष्ट कर दिया। भारत के सिक्किम में स्थिति विवादित इलाका भूटान और तिब्बत के सीमा के निकट है।

ये भी पढ़ें- जैन मुनि तरुण सागर बोले, पाकिस्तान के आतंकवादियों से ज्यादा हमारे देश में गद्दार

बता दें कि भारतीय सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने गुरुवार (29 जून) को गंगटोक स्थित 17 माउंटेन डिविजन और कालिमपॉन्ग में 27 माउंटेन डिविजन का दौरा किया। बिपिन रावत के दौरे में 33 कॉर्प्स और 17वीं डिविजन के सभी अधिकारी मौजूद रहे। रावत शुक्रवार (30 जून) सुबह नई दिल्ली वापस लौटेंगे।

अंग्रेज़ी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक़ डोका ला में स्थिति कई सालों से गंभीर बनी हुई है। दोनों ही देश अपने सैनिकों को पीछे नहीं हटाना चाहते। चीन द्वारा घुसपैठ की ताजा कोशिश को रोकने के लिए भारतीय सैनिकों ने मानवदीवार बनाई थी।

बिपिन रावत ने अपने दौरे में 17वीं डिविजन पर विशेष ध्यान दिया। 17वीं डिविजन की चार ब्रिगेडों पर पूर्वी सिक्किम की सुरक्षा की जिम्मेदारी है। हर ब्रिगेड में तीन हजार से अधिक सैनिक हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिएयहांक्लिक करें।

Share it
Top