Top

किसानों को मजबूती, गरीबों को शक्ति, और अर्थव्यवस्था को गति देगी यह बजट: पीएम मोदी

अंतरिम बजट 2019 पर प्रतिक्रिया देते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह बजट एक समावेशी बजट है जिसमें किसानो, मजदूरों के साथ-साथ मध्यम वर्ग को भी ध्यान में रखा गया है।

किसानों को मजबूती, गरीबों को शक्ति, और अर्थव्यवस्था को गति देगी यह बजट: पीएम मोदी

नई दिल्ली (भाषा)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अंतरिम बजट को लोगों के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव डालने वाला बजट बताते हुए कहा है कि यह बजट गरीबों को शक्ति, किसान को मजबूती और श्रमिकों को सम्मान देगा। बजट को समावेशी बताते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस बजट से लोगों के सपनों को नया बल मिलेगा और अर्थव्यवस्था में वृद्धि होगी।

अंतरिम बजट पर अपनी प्रतक्रिया देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, कि इस बजट में किसान उन्नति से लेकर कारोबारियों की प्रगति तक, इनकम टैक्स से लेकर इंफ्रास्ट्रक्चर तक, हाउसिंग से लेकर हेल्थ केयर तक, अर्थव्यवस्था को नई गति से लेकर न्यू इंडिया के निर्माण तक सभी का ध्यान दिया गया है।

पीएम ने कहा कि इस सरकार की योजनाओं ने देश के प्रत्येक व्यक्ति के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव डाला है। हमारी सरकार का पूरा प्रयास है कि वह किसानों को सशक्त कर उन्हें वह संसाधन दे, जिससे वे अपनी आय दोगुनी कर सकें। पीएम मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान निधि से उन किसानों की मदद मिलेगी जिनके पास 5 एकड़ से कम भूमि है। पीएम मोदी ने इस योजना को किसान कल्याण के मार्ग में एक ऐतिहासिक कदम बताया।



पीएम मोदी ने कहा कि यह बजट न्यू इंडिया के लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए हमें नई ऊर्जा देगा। इस बजट से मध्यम वर्ग की आशाओं और आकांक्षाओं को बल मिलेगा। प्रधानमंत्री ने मध्यम वर्ग को आयकर में मिली छूट के लिए बधाई देते हुए कहा कि देश का एक बहुत बड़ा वर्ग आज अपने सपनों को साकार करने और देश के विकास को गति देने में लगा हुआ है।

केंद्र सरकार को सर्वसमाज के लिए प्रतिबद्ध बताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि सरकार के प्रयासों से देश में गरीबी रिकॉर्ड गति से कम हुई है। उन्होंने कहा कि इस बजट से 3 करोड़ मध्यम वर्गीय लोगों और 12 करोड़ किसानों और 30 से 40 करोड़ श्रमिकों को सीधा लाभ मिलना तय है। पीएम मोदी ने कहा कि यह सिर्फ एक अंतरिम बजट है जो कि ट्रेलर है। अगर चुनावों के बाद उनकी सरकार फिर से सत्ता में आती है तो देश के विकास की गति में और वृद्धि होगी।

इससे पहले संसद में अंतरिम बजट पेश करते हुए कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की। सबसे महत्वपूर्ण घोषणा आयकर को लेकर की गई। आयकर छूट की सीमा को 2.5 लाख रुपए से बढ़ाकर 5 लाख रुपए कर दिया गया। मध्यम वर्ग को लाभ देने वाली इस घोषणा को सरकार का मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है। इसके अलावा गोयल ने किसानों और मजदूरों को लेकर भी कई वादें किए।

पढें- Union Budget 2019 LIVE : किसानों और पशुपालकों के लिए हुईं कई बड़ी घोषणाएं

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.