गांधी नगर स्टेशन का सारा संचालन सिर्फ महिलाओं के हाथ में, पुरुषों का यहां नहीं कोई काम

गांधी नगर स्टेशन का सारा संचालन सिर्फ महिलाओं के हाथ में, पुरुषों का यहां नहीं कोई कामगांधी नगर स्टेशन बना भारतीय रेलवे का पहला पूर्ण रूप से महिला संचालित स्टेशन  

जयपुर (भाषा)। जयपुर के गांधी नगर रेलवे स्टेशन में एक नई पहल की गई, जिसके तहत उत्तर पश्चिमी रेलवे स्टेशन में हर एक पोस्ट पर महिला कर्मचारी की नियुक्ति की गई है। यह स्टेशन देश का पहला ऐसा स्टेशन बन गया है जहां हर एक पोस्ट पर महिला कर्मचारी तैनाती की गई हैं।

महिला सशक्तिकरण की दिशा में उत्तर पश्चिम रेलवे ने जयपुर मंडल के गांधीनगर स्टेशन को सम्पूर्ण रूप से महिला संचालित स्टेशन बनाया है। जयपुर-दिल्ली रेलमार्ग पर स्थित जयपुर का यह महत्वपूर्ण स्टेशन है। यहां से प्रतिदिन लगभग 50 रेलगाड़ियां गुजरती है, जिनमें से 25 रेलगाड़ियां यहां रूकती हैं।

उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी तरूण जैन बताया कि लगभग सात हजार यात्री प्रतिदिन गांधीनगर स्टेशन से आवाजाही करते है। इस स्टेशन पर स्टेशन मास्टर से लेकर पांइन्ट्स मैन तक 32 महिला कर्मचारी को पदस्थ किया गया है।

ये भी पढ़ें- पिथौरागढ़ की पहली महिला आईएएस बदल रही जिले की सूरत

ये भी पढ़ें- यह खबर सिर्फ उत्तराखंड की महिलाओं और बालिकाओं के लिए है, 25 फरवरी का दिन उनके जीवन में लाएगा बड़ा बदलाव  

उन्होंने बताया कि गांधीनगर स्टेशन के आस-पास अनेक कॉलेज तथा कोचिंग सेंटर होने के कारण यहां आने वाले यात्रियों में बड़ी संख्या में विद्यार्थी तथा महिलाएं हैं। महिला कर्मचारियों को पूर्ण आत्मवश्विास से कार्य करने के लिए खास प्रशिक्षण दिया गया है। उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखकर सीसीटीवी लगाए गए है, जिससे स्टेशन स्थित थाने में रियल टाइम मानिटरिंग हो सके।

ये भी पढ़ें- अच्छी खबर : इस साल खूब होगी दाल

इनपुट भाषा

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top