आतंकी हमले के खतरे के चलते अमरनाथ यात्रा रोकी गई, यात्रियों को जम्मू-कश्मीर से लौटने की सलाह

आतंकी हमले के खतरे के चलते अमरनाथ यात्रा रोकी गई, यात्रियों को जम्मू-कश्मीर से लौटने की सलाह

लखनऊ। अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों से सुरक्षा के खतरे के मद्देनजर जम्मू-कश्मीर से लौटने के लिए कहा गया है। सेना और जम्मू कश्मीर पुलिस ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि पाकिस्तान सीमा पार से आतंकवादियों की घुसपैठ कराने की कोशिशें हो रही है। लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्‍लन ने कहा कि इस तरह के इंटरनेशनल इनपुट्स मिले हैं कि आतंकी अमरनाथ यात्रा पर हमले की साजिश रच रहे हैं।

उन्‍होंने कहा, 'पिछले तीन-चार दिनों में बहुत ही स्‍पष्‍ट और पुष्‍ट खुफिया जानकारी मिली है कि पाकिस्‍तानी सेना द्वारा समर्थित आतंकी अमरनाथ यात्रा बाधित करने की फिराक में हैं और उसके आधार पर यात्रा के दोनों मार्गों, दक्षिण की तरफ के पहलगाम वाले रास्‍ते और उत्तर की तरफ के बालटाल वाले रास्‍तों पर सेना और सीआरपीएफ की टीमों में संयुक्‍त रूप से गहन तलाशी अभियान चलाया है। यहां तक कि पवित्र गुफा तक जाने वाले पैदल मार्ग की भी पिछले तीन दिनों से लगातार जांच की जा रही है।'

लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्‍लन ने कहा कि 'तलाशी अभि‍यान में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता हाथ लगी है। सुरक्षाबलों ने पाकिस्तान में बनी एक लैंडमाइन और टेलीस्कोप के साथ एक M-24 अमेरिकन स्नाइपर राइफल बरामद की है। अमरनाथ यात्रा के रूट की तीन दिनों तक गहन जांच की गई।' उन्होंने कहा, 'इस पूरे मामले में पाकिस्तानी सेना की गोला-बारूद और हथियारों के साथ सीधी संलिप्तता है।'

राज्य में आतंकी हमलों की आशंका को देखते हुए पर्यटकों के लिए अचानक यात्रा खत्म किए जाने संबंधी एडवाइजरी जारी किए जाने पर पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर नाराजगी और चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि 'सीरियसली? आपने सोचा है कि एक सरकारी आदेश से पर्यटक जल्दी से घाटी छोड़कर भागने लगेंगे? कितने पर्यटक इस आदेश को देखकर भागने लगेंगे। लोगों के भागने से एयरपोर्ट और हाइवे पर जाम लग जाएगा।'

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top