तीन तलाक कानूनी रूप से प्रतिबंधित होना चाहिए: जावेद अख्तर

तीन तलाक कानूनी रूप से प्रतिबंधित होना चाहिए: जावेद अख्तरमशहूर गीतकार व पटकथा लेखक जावेद अख्तर।

मुंबई (आईएएनएस)। मशहूर गीतकार व पटकथा लेखक जावेद अख्तर तीन तलाक को खत्म किए जाने के पक्ष में हैं। उनका कहना है कि इस तरह से तलाक दिए जाने की प्रथा को कानूनी रूप से प्रतिबंधित किया जाना चाहिए और इसे 'संज्ञेय अपराध' घोषित किया जाना चाहिए।

अख्तर ने मंगलवार को ट्वीट किया, ''ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर भरोसा नहीं किया जा सकता। वे बस इस मामले को नया मोड़ देने की कोशिश कर रहे हैं। तीन तलाक कानूनी रूप से प्रतिबंधित किया जाना चाहिए और इसे संज्ञेय अपराध घोषित किया जाना चाहिए।''

ये भी पढ़ें : तीन तलाक : ‘निकाह के वक्त दूल्हों को तीन तलाक का रास्ता नहीं अपनाने की सलाह देंगे काजी’

अख्तर का यह ट्वीट ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उस बयान के बाद आया है जिसमें बोर्ड ने अपने हलफनामे में कहा है कि काजी निकाह के वक्त दूल्हा-दुल्हन को तीन तलाक के प्रावधान से दूर रहने की सलाह दें क्योंकि शरीयत में इसे वांछनीय नहीं माना गया है। अख्तर ने पिछले साल भी तीन तलाक की प्रथा का समर्थन करने के लिए ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की निंदा की थी।

ये भी पढ़ें : तीन तलाक का ये है शर्मसार करने वाला पहलू , जिससे महिलाएं ख़ौफ खाती हैं

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top