‘जिन्ना हाउस को गिराकर बनाया जाए सांस्कृतिक केंद्र’

‘जिन्ना हाउस को गिराकर बनाया जाए सांस्कृतिक केंद्र’मोहम्मद अली जिन्ना के दक्षिण मुंबई स्थित आवास ‘जिन्ना हाउस’।

मुंबई (भाषा)। भाजपा विधायक मंगल प्रभात लोढ़ा ने शनिवार को मांग की कि पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना के दक्षिण मुंबई स्थित आवास ‘जिन्ना हाउस’ को गिराया जाए और उसकी जगह एक सांस्कृतिक केंद्र बनाया जाए।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

लोक निर्माण विभाग की बजटीय मांगों पर विधानसभा में बोल रहे लोढ़ा ने कहा, “दक्षिण मुंबई में जिन्ना का आवास ही वह जगह है जहां से विभाजन की साजिश रची गई थी। जिन्ना हाउस विभाजन का प्रतीक है। उसे गिराया जाना चाहिए। इमारत के रखरखाव की जिम्मेदारी पीडब्ल्यूडी की है और इस पर लाखों रपए खर्च होते हैं।”

विधायक ने कहा कि संसद द्वारा शत्रु संपत्ति कानून पारित किए जाने के बाद जिन्ना हाउस भारत सरकार की संपत्ति है। उसे गिराना ही एकमात्र विकल्प है। विधायक के मुताबिक शत्रु संपत्ति कानून पारित होने के बाद जिन्ना के वारिस जिन्ना हाउस पर दावा नहीं कर सकते। शत्रु संपत्ति कानून के मुताबिक विभाजन के दौरान पाकिस्तान और चीन चले गए लोगों का भारत में रह गईं संपत्तियों पर कोई दावा नहीं है।

महाराष्ट्र की स्थापना के 50 वर्ष पूरे होने के अवसर पर की गई मांग

शत्रु संपत्ति कानून के तहत अब जो लोग भारत के विभाजन के समय पकिस्तान चले गए, उनकी यहां (भारत) की संपत्ति में उनका या उनके वारिसों का कोई हक़ नहीं है। इस बारे में हाल ही में संसद में कानून पास किया गया है। मुंबई में मलबार हिल इलाके के विधायक लोढ़ा ने सरकार से मांग की है कि जिन्ना हाउस को जमींदोज़ किया जाए।

मलबार हिल के भाउसाहब हीरे मार्ग पर स्थित जिन्ना हाउस सन 1936 में बनाया गया था, जिस पर उस जमाने में दो लाख रुपए की लागत आई थी। ब्रिटिशकालीन इंडो गोथिक स्टाइल के भवन निर्माण शैली में करीब २.५ एकड़ जमीन पर निर्मित जिन्ना हाउस क्लाउड बेटली के निर्देशन में बनाया गया था। सन 1944 से लेकर भारत विभाजन तक जिन्ना ने इसी इमारत में देश के टुकड़े करवाने के षड़यंत्र रचे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top