Kumbh Mela 2019: कैसे पहुंचे कुंभ, कहां है रुकने की व्यवस्था, बस एक क्लिक में जानिए

kumbh mela 2019 आप अगर दिल्ली, मुंबई या केरल में रहते हैं और प्रयागराज कभी नहीं गये हैं तो आप के मन में सबसे पहला सवाल यही होगा कि आप कुम्भ मेला पहुंचेंगे कैसे? फ्लाइट से कैसे पहुंचेंगे, बस कहां से मिलेगी, इन सभी सवालों का जवाब आपको यहीं मिलेगा

प्रयागराज कुंभ मेला 2019कुंभ मेला 2019 की तैयारी जोरों पर है।

लखनऊ। दुनिया का सबसे बड़ा मेला कुंभ ( अर्ध कुम्भ मेला 2019) शुरू होने में अब बस चंद दिन ही शेष बचे हैं। अगले साल यानी 2019 में संगम नगरी प्रयागराज में लगने वाले कुंभ मेले के शाही स्नान की तारीख का ऐलान हो चुका है। शाही स्नान 15 जनवरी से शुरू होगा। ऐसे में आप अगर कुंभ मेला जा रहे हैं या जाने चाहते हैं तो कैसे जाएंगे और कहां ठहरेंगे, ये दो सवाल आपके जेहन में सबसे पहले आएगा। यात्रा और ठहरने की हर जानकारी आपको इस खबर में मिलेगी।

कैसे पहुंचेंगे प्रयागराज

आप अगर दिल्ली, मुंबई या केरल में रहते हैं और प्रयागराज कभी नहीं गये हैं तो आप के मन में सबसे पहला सवाल यही होगा कि आप कुंभ पहुंचेंगे कैसे। ट्रेन का टिकट अगर प्रयागराज जंक्शन या प्रयाग स्टेशन का नहीं मिलता तो आप किस स्टेशन का टिकट लेंगे जहां से आप आसानी से कुंभ मेले तक जा सकते हैं, फ्लाइट से कैसे पहुंचेंगे, बस कहां से मिलेगी, इन सभी सवालों का जवाब आपको यहीं मिलेगा। तो सबसे पहले देखते हैं कि कुंभ के लिए फ्लाइट की कनेक्टिविटी क्या है...

फ्लाइट (प्लेन) से कैसे पहुंचेंगे प्रयागराज

प्रयागराज एयरपोर्ट बमरौली से कुंभ मेला क्षेत्र की दूरी महज 12 किमी है। आप इन शहरों से प्रयागराज सीधे पहुंच सकते हैं-

कहां से, संचालक कंपनी, किस दिन

दिल्ली- एयर इंडियन- प्रतिदिन

लखनऊ- जेट एयरवेज- मंगल/बृहस्पतिवार/रविवार

पटना- जेट एयरवेज- मंगल/बृहस्पतिवार/रविवार

इन्दौर- जेट एयरवेज- सोमवार/बुधवार/शनिवार

नागपुर- जेट एयरवेज- सोमवार/बुधवार/शनिवार


इन शहरों से जल्द शुरू होगी सेवाएं

शहर संचालक कंपनी

पुणे- इंडिगो एयरलाइन्स

रायपुर- इंडिगो एयरलाइन्स

बंगलौर- इंडिगो एयरलाइन्स

भुवनेश्वर- इंडिगो एयरलाइन्स

भोपाल- इंडिगो एयरलाइन्स

देहरादून- इंडिगो एयरलाइन्स

मुम्बई- इंडिगो एयरलाइन्स

गोरखपुर- इंडिगो एयरलाइन्स

कोलकाता- जूम एयर

लखनऊ- टर्बो एवियेशन

ट्रेन से कैसे पहुंचेंगे कुंभ (Kumbh Mela 2019)

अगर आप कभी प्रयागराज (इलाहाबाद) नहीं गये हैं तो हो सकता है कि आपको लग रहा होगा कि वहां पहुंचने के लिए इलाहबाद जंक्शन, प्रयाग घाट या प्रयाग जंक्शन ही है, लेकिन ऐसा नहीं है। आप इन रेलवे स्टेशनों का टिकट कराकर आसानी से कुंभ मेले तक पहुंच सकते हैं। ऐसे कुल 10 रेलवे स्टेशन हैं-

स्टेशन, स्टेशन कोड, कुंभ मेला क्षेत्र की दूरी


  • इलाहाबाद छिवकी-(ACO)- 9.4 किमी
    • नैनी जंक्शन- (NYN)- 7.2 किमी
  • इलाहाबाद जंक्शन- (ALD)- 6.5 किमी
  • फाफामऊ जंक्शन- (PFM)- 11.9 किमी
  • सूबेदारगंज- (SFG)- 11.2 किमी
  • इलाहाबाद सिटी- (ALY)- 3.8 किमी
  • दारागंज- (DRGJ)- 1.3 किमी
  • झूसी- (JI)- 7.6 किमी
  • प्रयाग घाट- (PYG)- 1.5 किमी
  • प्रयाग जंक्शन- (PRG)- 5.0 किमी


इन सभी रेलवे स्टेशन देश के कोने-कोने से जुड़े हैं। ऐसे में आप आईआरसीटीसी से सीट बुकिंग करा सकते हैं। इसके अलावा कुंभ मेले में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए 800 स्पेशल ट्रेनें भी चलेंगी। देश के हर जोन से 6 विशेष ट्रेनें होंगी। नॉर्थ सेंट्रल रेलवे के पीआरओ एनसीआर अमित मालवीय का कहना है 'कुंभ मेला में आने वाले श्रद्धालुओं और टूरिस्‍टों के लिए देश के हर रेलवे जोन से पांच स्‍पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी। उन्‍होंने आगे बताया कि रेलवे 5,000 प्रवासी भारतीयों को प्रयागराज से नई दिल्‍ली ले जाने के लिए पांच स्‍पेशल ट्रेन चलाने की योजना भी बना रहा है। इसके अलावा प्रयागराज क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सभी स्टेशनों के लिए अनारक्षित टिकटों की बुकिंग 15 दिन पहले ही करा सकते हैं।

बस की सुविधा

प्रयागराज के क्षेत्र में चार बस स्टैंड हैं जहां देश के विभिन्न शहरों से आसानी से पहुंचा जा सकता है। सिविल लाइन बस स्टैंड से मेला क्षेत्र मात्र पांच किमी की दूरी पर है। इसके अलावा जीरो रोड बस स्टैंड 4.9 किमी, लीडर रोड बस स्टैंड 6.6 किमी और झूंसी बस डिपो की दूरी मेला क्षेत्र से मात्र 6.9 किमी दूरी पर है।


उत्तर प्रदेश: कुंभ के लिए चलेंगी 8,000 स्पेशल बसें

कुंभ में गंगा स्नान करने वालों के लिए उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम 8000 बसें चलाएगा। प्रदेश के सभी जिलों से प्रयागराज के लिए विशेष बसों का संचालन होगा। हालांकि शुरू में पहले 6000 बसें ही चलाई जाएंगी, 2000 बसें बैकअप के रूप में रहेंगे।

लखनऊ से चलेंगी 400 बसें, एडवांस बुकिंग 15 फीसदी तक छूट

प्रयागराज कुंभ के लिए लखनऊ रीजन चार सौ बसें चलाएगा। नॉन स्टॉप विशेष सेवाएं बस स्टेशन से छूटकर कहीं और नहीं रुकेंगी। कुंभ स्पेशल बसों का संचालन आलमबाग, चारबाग व कैसरबाग बस अड्डे से किया जाएगा। प्रयागराज पहुंचने के बाद मेला क्षेत्र तक जाने के लिए श्रद्धालुओं को नि:शुल्क शटल बस सेवाएं मिलेंगी। यही नहीं एसी बसों में सफर के लिए श्रद्धालु एडवांस में सीट बुक करा सकते हैं। इसमें किराये में पांच से 15 फीसदी तक छूट मिलेगी।

इन तारिखों में बसों का संचालन

पहला चरण-13 से 29 जनवरी तक 200 बसें

दूसरा चरण-30 जनवरी से 14 फरवरी तक 400 बसें

तीसरा चरण-15 फरवरी से पांच मार्च तक 200 बसें

प्रयागराज में रुकेंगे कहां


अब आप कुंभ स्नान के लिए प्रयागराज जाने का प्लान बनाएंगे तो कैसे पहुंचेंगे के बाद आपके मन में दूसरा सबसे बड़ा सवाल जो होगा वह यह कि वहां रुकेंगे कहां। तो इस समस्या का समाधान भी आपको मिनटों में मिल जाएगा। अगर आप टेंटों में रुकना चाहते हैं तो कल्पवृक्ष (www.kalpvrikash.in, Mob-9415247600), कुंभ कैनवास (www.kumbhcanvas.com, Mob-6388933340), वैदिक टेंट सिटी (www.kumbhtent.com, Mob-9909900776), इंद्रप्रस्थम सिटी (www.indraprasthamcity.com, Mob-8588857881) की वेबसाइट या मोबाइल नंबर पर फोन करके अपनी बुकिंग करा सकते हैं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग (उत्तर प्रदेश सरकार) भी कुंभ मेला 2019 में पर्यटकों के रहने के लिए सुविधा दे रहा है जिसका कोई भी शुल्क देकर लाभ उठा सकता है। इसकी पूरी जानकारी इस वेबसाइट पर मिलेगी- www.ogabnb.com

रेलवे स्टेशनों पर भी रुकने की सुविधा

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर दी यह जानकारी

पिछले दिनों केंद्रीय रेल मंत्री पियूष गोयल ने एक ट्वीट करके जानकारी दी कि इलाहाबाद जंक्शन पर करीब 10000 यात्रियों की क्षमता वाले चार रैन बसेरे भी बनाए जाएंगे। इन रैन बसेरों में वेंडिंग स्टॉल, वॉटर बूथ, टिकट काउंटर, एलसीडी टीवी, पीए सिस्टम और सीसीटीवी कैमरे होंगे। ऐसे में ठहरने के लिए इस सुविधा का भी लाभ उठाया जा सकता है।

अर्ध कुंभ मेला 14 जनवरी 2019 से 4 मार्च 2019 तक चलेगा। इस दौरान उम्मीद है कि स्नान के लिए करोड़ों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचेंगे।

(सभी जानकारी www.kumbh.gov.in से आभार)

Share it
Top