इलाहाबाद कुम्भ मेले से पहले रेलवे लगाएगा ‘सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट’, कूड़े से करेगा कमाई

इलाहाबाद कुम्भ मेले से पहले रेलवे लगाएगा ‘सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट’, कूड़े से करेगा कमाईप्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ। इलाहाबाद रेल मंडल अब ट्रेनों और स्टेशन परिसर से निकलने वाले कूड़े से बिजली बनाने की तैयारी कर रहा है। रेल विभाग का प्रयास है कि वो अपने इस प्लांट को कुम्भ के मेले से पहले शुरू कर दे। कुम्भ के मेले के दौरान श्रद्धालुओं की भारी भीड़ को देखते हुए रेलवे जल्द ही बिजली प्लांट को कुम्भ मेले से पहले लगाने की कोशिश कर रहा है क्योंकि भीड़ बढ़ने के कारण कूड़ा भी ज्यादा निकलेगा।

ये भी पढ़ें- अगर आपने अपने आईआरसीटीसी अकाउंट में बनाई है मास्टर लिस्ट तो तत्काल में मिल सकता है आसानी से टिकट

इलाहाबाद मंडल के मुख्य जन संपर्क अधिकारी गौरव कृष्ण बंसल ने गाँव कनेक्शन को बताया कि इलाहाबाद मंडल कुम्भ के मेले के दौरान 'सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट' लगाने जा रहा है। मंडल इलेक्ट्रिसिटी प्लांट लगाने की तैयारी कर रहा है जिससे 192 मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा। जिसके लिये इलाहाबाद रेल मंडल स्टेशन परिसर से प्रतिदिन 6 टन कूड़ा एकत्र करेगा और उस 6 टन कूड़े को नष्ट करके उससे बिजली बनाई जाएगी।

ये भी पढ़ें- भारतीय रेल: छोटे स्टेशनों का जल्द ही होगा कायाकल्प

रेलवे स्टेशन पर चार बॉटल क्रशर्स

इसके अलावा रेल विभाग यात्रियों के लिये बॉटल क्रशर्स(बोतल को नष्ट करने वाली मशीन) भी लगाने की योजना बना रहा है। यात्री यात्रा समाप्त होने के बाद खाली बोतल को इस मशीन में डाल देगा जिससे ये बोतलें पूरी तरह से नष्ट हो जाएगी और इन बोतलों का दुबारा इस्तेमाल नहीं हो पाएगा।

कभी सोचा है आपने? ट्रेन के हर हॉर्न का अलग मतलब होता है जनाब...

खेती और रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाली मशीनों और जुगाड़ के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Share it
Top