Kumbh Mela 2019: इस टेंट में रहने के लिए देने होंगे 32 हजार रुपए, जानिए क्या है इसमें इतना खास

Kumbh Mela २०१९: प्रयागराज के अरैल घाट पर लगभग 50 एकड़ में एनआरआई सिटी बसाया जा रहा है जिसकी लागत 50 करोड़ रुपए से ज्यादा है।

Mithilesh DharMithilesh Dhar   15 Jan 2019 6:15 AM GMT

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • koo

प्रयागराज धर्म और आस्था का कुंभ कहा जाना वाला कुंभ मेला 2019 इस बार अपनी अधुनिकता के लिए भी जाना जायेगा। पृथ्वी के इस सबसे बड़े आयोजन के लिए प्रयागराज (इलाहाबाद) का संगम तट पर जमघट शुरू हो गया है। इसी बीच अरैल घाट पर बन रहे फाइव स्टार टेंट की चर्चा भी खूब हो रही है। लोगों में उत्सुकता है कि आखिर 32000 हजार रुपए वाला टेंट है कैसा। तो आइये आपको बताते हैं कि यह इस टेंट में रहने के लिए एक रात का इतना पैसा क्यों लग रहा है।

प्रयागराज के अरैल घाट पर लगभग 50 एकड़ में एनआरआई सिटी बसाया जा रहा है जिसकी लागत 50 करोड़ रुपए से ज्यादा है। प्रदेश सरकार ने टेंट माय सिटी के जरिये एक खास पहल की है जहाँ दूसरे देशों से आने वाले लोगों के लिए विशेष सुविधायें दी जाएगी। एनआरआई सिटी को इंद्रप्रस्थम जबकि इंट्री गेट को अमृत मंथन का नाम दिया गया है।


यह भी पढ़ें-Kumbh Mela 2019: कैसे पहुंचे कुंभ, कहां है रुकने की व्यवस्था, बस एक क्लिक में जानिए

अरैल घाट तक पहुंचने के लिए अस्थायी सड़कें बन रही हैं। नई दिल्ली की कंपनी हितकारी प्रोडक्शन एंड क्रिएशंस को टेंट माय सिटी को बसाने की जिम्मेदारी दी गयी है। तीन तरह के कॉटेज बनाये जा रहे हैं। जिनके नाम अत्री, अंगिरासा और गौतम रखा है। इस बारे में कपंनी के डायरेक्टर सतेंद्र कुमार गाँव कनेक्शन को बताते हैं ''हमने टेंटों का नाम ऋषियों के नाम पर रखा है।


सभी टेंट फाइव स्टार होटल की तरह होंगे, इसका डेमो हम उत्तर प्रदेश सरकार भी दिखा चुके हैं। टेंटों में गर्म पानी से लेकर वाईफाई तक, सभी तरह की आधुनिक सुविधाएं मौजूद रहेंगी। टेंट की बुकिंग देशी, विदेशी हर श्रद्धालु करा सकते हैं।


यह भी पढ़ें- तस्वीरों में देखिए कुंभ नगरी प्रयागराज की एक सुबह...

क्या है खास

ऐसा पहली बार हुआ है जब विदेशी मेहमानों के लिए इस तरह के लग्जरी टेंट बनाये जा रहे हैं। सतेंद्र बताते हैं कि डीलक्स और विला को मिलाकर कुल 1000 टेंट बनाये जा रहे हैं जिसके लिए 15 इंजीनियर सहित 500 से ज्यादा कारीगर काम कर रहे हैं। पुरे कैंप में सीसीटीवी कैमरे लगाये जा रहे हैं। सुरक्षाबलों की टुकड़ी अभी से तैनात है। इसके आलावा इंद्रप्रस्थ के पास ही तीन घाट बनाये जा रहे हैं जहाँ श्रद्धालु स्नान कर सकते हैं। प्रवेश गेट की लम्बाई 800 फीट है, वहां आपको भारतीय संस्कृति की झलक मिलेगी।

अत्री डीलक्स रूम


336 स्क्वायर फीट का यह डीलक्स रूम सबसे सस्ता है। इसमें रहने के लिए आपको एक रात का 11,999 है जीएसटी अलग देना होगा।इसमें क्वीन साइज़ का बेडरूम और सिटिंग एरिया है। सिंगल सोफा और बाथरूम अटैच है। साथ ही नाश्ते और खाने की भी व्यवस्था होगी।

अंगिरासा लग्जरी रूम

480 स्क्वायर फीट वाले इस लग्जरी रूम के लिए आपको 15,999 रुपए चुकाने होंगे, जीएसटी चार्ज अलग से होगा। इसमें किंग साइज़ बेडरूम के साथ ड्राइंग रूम और टीवी भी है। नाश्ते के साथ-साथ लंच और डिनर भी है।

गौतम विला

इंद्रप्रस्थ का यह सबसे खास टेंट है। 900 स्क्वायर फीट बने इस विला में रहने के लिए एक रात की कीमत 31,999 रुपए है, जीएसटी मिलाकर इसकी कीमत 35000 रुपए तक पहुँच जाएगी। इसमें दो बेडरूम, ड्राइंग रूम और डाइनिंग एरिया भी है। नाश्ता, लंच और डिनर भी है।


यह भी पढ़ें- Kumbh Mela 2019: जानें कुंभ में स्नान की कौन-कौन सी हैं प्रमुख तिथियां और उनका महत्व

सतेंद्र आगे बताते हैं कि मेहमानों के खाने के लिए 8 रेंस्त्रा बनाये जा रहे हैं जिसमें शाकाहरी खाना बनेगा। इसके आलावा सभी टेंटों में नेट की सुविधा रहेगी और मेहमानों को रेलवे स्टेशन या एअरपोर्ट से ले आने और ले जाने के लिए विशेष गाड़ियों का प्रबंध किया गया है।

  

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.