नीतीश बोले, ‘इस माहौल में काम करना नहीं था संभव, बीजेपी से समर्थन पर ना नहीं’ 

नीतीश बोले, ‘इस माहौल में काम करना नहीं था संभव, बीजेपी से समर्थन पर ना नहीं’ इस्तीफा सौंपकर राज्यपाल भवन से बाहर निकले नीतीश कुमार

पटना। मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद नीतीश कुमार ने महागठबंधन टूटने को लेकर सारा ठीकरा लालू प्रसाद यादव की राष्ट्रीय जनता दल की नीतियों पर फोड़ा। उन्होंने स्पष्ट कहा कि, महागठबंधन को कायम रखने की पूरी कोशिश की लेकिन मेरे काम करने के तरीके के खिलाफ सरकार चलाना मेरे बहुत मुश्किल है। इसी के साथ उन्होंने बीजेपी से समर्थन मिलने पर हामी भरने की संभावना भी जताई।

ये भी पढ़ें-तेजस्वी के इनकार के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा

नीतीश आगे बोले कि 20 महीने की सरकार में उन्होंने जनकल्याण के बहुत काम किए। शराबबंदी की मगर तमाम अच्छे कामों का जिक्र नहीं किया गया और विवाद को ही हवा दी गई। उन्होंने नोटबंदी के समर्थन और राष्ट्रपति पद पर रामनाथ कोविंद का समर्थन करने के मुद्दे पर हुए विरोध को भी आड़े हाथों लिया।

नीतीश के अनुसार, बेनामी संपत्ति पर हमला करने के लिए मैंने केंद्र सरकार को बोला था, ऐसी परिस्थिति में ऐसे मामलों में मैं कैसा चुप रहता। इसलिए इस्तीफा देना मजबूर हुआ।

ये भी पढ़ें- 20 महीने में ही क्यों टूटा महागठबंधन ? नीतीश कुमार ने क्यों दिया इस्तीफा ? ये रहे बड़े कारण

इस्तीफे के बाद नीतीश कुमार ने क्या कहा, देखें वीडियो

Share it
Top