हार्दिक पटेल नहीं लड़ सकेंगे लोकसभा चुनाव, गुजरात हाईकोर्ट से झटका

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • koo
हार्दिक पटेल नहीं लड़ सकेंगे लोकसभा चुनाव, गुजरात हाईकोर्ट से झटका

लखनऊ। कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल इस बार लोकसभा चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। गुजरात हाईकोर्ट ने मेहसाणा दंगा मामले में हार्दिक पटेल को हुई सजा निरस्‍त करने की याचिका खारिज कर दी है। जनप्रतिनिधि कानून-1951 के तहत दो साल या इससे अधिक की सजा पाने वाले लोग चुनाव नहीं लड़ सकते। इस वजह से हार्दिक भी चुनाव नहीं लड़ सकेंगे।

हार्दिक पटेल को पिछले साल 25 जुलाई को एक स्थानीय अदालत ने दो साल के साधारण कारवास की सजा सुनाई थी। हार्दिक को यह सजा 23 जुलाई 2015 को एक आरक्षण रैली के दौरान हुई हिंसा के मामले में सुनाई गई थी। यह हिंसा महेसाणा जिले में हुई थी। उस वक्‍त तत्कालीन स्थानीय भाजपा विधायक ऋषिकेश पटेल के कार्यालय पर हमला और तोड़फोड़ का आरोप भी हार्दिक पर लगा था।

हार्दिक पटेल ने आठ मार्च को गुजरात हाईकोर्ट में याचिका दायर कर सजा पर रोक लगाने का आग्रह किया था। हार्दिक ने यह याचिका इसलिए दायर की थी क्‍योंकि वो लोकसभा चुनाव लड़ना चाहते थे। बुधवार को गुजरात सरकार ने हार्दिक पटेल की इस याचिका का विरोध किया था। सरकारी वकील मितेश अमीन ने अदालत से कहा था कि पटेल करीब 17 मुकदमों का सामना कर रहे हैं, जिससे पता चलता है कि उनका चरित्र ठीक नहीं है।

गौरतलब है कि हार्दिक पटेल 12 मार्च को कांग्रेस में शामिल हुए थे। ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि हार्दिक जामनगर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। फिलहाल गुजरात हाईकोर्ट के उनकी याचिका खारिज करने के बाद अब वो चुनाव नहीं लड़ सकेंगे।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.