अखिलेश ने जितना मुझे अपमानित किया उतना किसी ने नहीं किया : मुलायम  

अखिलेश ने जितना मुझे  अपमानित किया उतना किसी ने नहीं किया : मुलायम  समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।

लखनऊ (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव और उनके बेटे अखिलेश यादव के बीच मतभेद शनिवार को एक बार फिर सामने आ गए, जब मुलायम ने खुद को और अपने भाई शिवपाल यादव को अपमानित करने का आरोप अखिलेश पर लगाया। सपा संस्थापक ने कहा कि उन्हें जितना अखिलेश ने अपमानित किया, उतना किसी ने भी नहीं किया।

मुलायम ने विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान कन्नौज में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से दिए गए बयान का हवाला देते हुए कहा, "यह सही है कि जो बाप का नहीं हुआ, वह किसी का नहीं हो सकता।"

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

गौरतलब है कि मोदी ने कन्नौज में अखिलेश पर निशाना साधते हुए कहा था कि ‘जिसने अपने पिता का अपमान किया हो, वह राज्य के लोगों के साथ वफादार कैसे हो सकता है?’

मैनपुरी में एक होटल का उद्घाटन करने पहुंचे मुलायम ने दावा किया कि मोदी के बयान ने मतदाताओं को प्रभावित किया, जिसका खामियाजा सपा को उठाना पड़ा। उन्होंने कहा, "2012 में लोगों ने मुझे मुख्यमंत्री बनाने के लिए पार्टी को वोट दिया था, लेकिन मैंने अखिलेश को मुख्यमंत्री बना दिया। पर उसने मेरा अपमान किया।

मेरा आज तक जिंदगी में कभी किसी ने इतना अपमान नहीं किया।” उन्होंने कहा, “लेकिन मैंने किसी से कुछ नहीं कहा, क्योंकि मेरा बेटा ही मेरे खिलाफ था।”
मुलायम सिंह यादव समाजवादी पार्टी संस्थापक

उन्होंने कहा कि यह बहुत बड़ी त्रासदी है कि उनके बेटे ने कांग्रेस से हाथ मिला लिया। एक ऐसी पार्टी, जिसने उन पर एक बार नहीं, बल्कि तीन बार 'जानलेवा हमले' किए।

गौरतलब है कि अखिलेश यादव ने एक जनवरी को मुलायम को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटा कर खुद इस पद की कमान संभाल ली थी। अखिलेश ने राज्यसभा सांसद अमर सिंह को भी पार्टी से निकाल दिया था और अपने चाचा शिवपाल यादव को पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष पद से हटा दिया था।

Share it
Top