महाकाल को सवा लाख लड्डू का भोग तो खजराना के गणेश को बांधी गई 44 इंच की राखी 

महाकाल को सवा लाख लड्डू का भोग तो खजराना के गणेश को बांधी गई 44 इंच की राखी प्रतीकात्मक फोटो।

भोपाल (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में रक्षाबंधन का पर्व उत्साह और उमंग के साथ मनाया जा रहा है। घरों में जहां बहनें भाइयों की कलाई पर राखी बांध रही हैं, वहीं देवालयों में भी रक्षाबंधन पर्व की धूम है। उज्जैन स्थित ज्योतिर्लिंग महाकाल को राखी बांधने के साथ सवा लाख लड्डुओं का भोग लगाया गया, वहीं इंदौर के खजराना के गणेश जी को 44 इंच की राखी बांधी गई।

उज्जैन स्थित बाबा महाकाल के दरबार में सोमवार की सुबह भस्मारती के साथ राखी बांधी गई। मान्यता है कि कोई भी पर्व सबसे पहले बाबा महाकाल के दरबार में ही मनाया जाता है। उसी परंपरा के मुताबिक, अलसुबह महाकाल को राखी बांधी गई और सवा लाख लड्डुओं का प्रसाद लगाया गया। चंद्रग्रहण के कारण यहां दिन में दोपहर एक बजे तक ही प्रसाद का वितरण होगा।

ये भी पढ़ें : मेवात की लड़कियों ने ट्रंप और मोदी के लिये भेजी राखियां

इसी तरह इंदौर के खजराना के गणेश जी को 44 इंच की राखी बांधी गई। शहर का पालरेचा परिवार बीते 15 वर्षों से गणेश जी के लिए राखी बनाता आ रहा है। इस बार पालरेचा परिवार ने समुद्र मंथन की राखी बनाई है, जो पूरे विधि विधान के साथ गणपति जी को बांधी गई।

राज्य के अन्य धार्मिक स्थलों पर भी रक्षाबंधन का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। दोपहर दो बजे तक ही मुहूर्त होने के कारण हर कोई चंद्रग्रहण का सूतक लगने से पहले ही रक्षाबंधन का पर्व मना लेने में जुटा है।

ये भी पढ़ें : पुंछ की महिलाओं ने LoC पर तैनात सेना के जवानों को बांधी राखी

Share it
Share it
Share it
Top